March 3, 2024

#World Cup 2023     #G20 Summit    #INDvsPAK    #Asia Cup 2023     #Politics

Train: चेन्नई से पुणे भारत गौरव ट्रेन में सवार 80 यात्रियों की बिगड़ी हालत, हुए जहरखुरानों का शिकार

0
Bharat Gaurav Train

Bharat Gaurav Train

Train: महाराष्‍ट्र से एक खबर सामने आई है जहां ट्रेन में 80 यात्रियों की तबीयत अचानक से खराब हो गई। यह मामला महाराष्‍ट्र के पुणे रेलवे स्टेशन का है। दरअसल चैन्नई से पुणे आ रही भारत गौरव ट्रेन में सवार यात्रियों की तबीयत बिगड़ गई फिर उन सभी यात्रियों को पुणे के एक अस्पताल में इलाज के लिए भर्ती कराया गया। जानकारी के अनुसार कुछ जहरखुरानों ने इन यात्रियों को अपना शिकार बनाया है।

हुए जहरखुरानी का शिकार

Also Read: Uttarkashi Tunnel: PM Modi ने 17 दिन बाद बाहर आए मजदूरों से की बात, सीएम धामी ने कही बड़ी बात

रेलवे द्वारा दिया गया खाना खाने के बाद करीब 80 लोग फूड पॉइजनिंग के शिकार हो गए। डॉक्टरों ने जांच के बाद कहा कि सभी यात्री फिलहाल खतरे से बाहर हैं। पुणे रेलवे प्रशासन ने बताया कि जब ट्रेन पुणे पहुंची तो एक साथ 80 यात्रियों की तबीयत खराब होने का मामला सामने आया। जिसके बाद स्टेशन पर प्राथमिक उपचार देकर उन्हें ससून अस्पताल में भर्ती कराया गया। फिलहाल यहां सभी की हालत स्थिर बताई जा रही है। शुरुआती जानकारी के अनुसार ट्रेन में कुछ युवकों ने उन्हें जहरखुरानी का शिकार बनाया है। फिलहाल रेलवे मामले की जांच कर रहा है।

फूड पॉइजनिंग के मामले

ऐसा पहली बार नहीं हुआ कि ट्रेन का खाना खा कर यात्री बीमार पड़े हों, ऐसा कई बार हुआ है जब ट्रेन का खाना खाकर यात्री बीमार पड़े हैं और उन्हे फ़ूड पॉइजनिंग हुई हो। 6 अप्रैल 2019 को नई दिल्ली से भुवनेश्वर जा रही राजधानी एक्सप्रेस में भी ऐसा ही मामला सामने आया था। जिसमें कई यात्री फूड पॉइजनिंग का शिकार हुए थे। यात्रियों के अनुसार ट्रेन में परोसे गए खाने के चलते कई यात्रियों की तबीयत खराब हो गई थी। खबरों के अनुसार ट्रेन में 40 से ज्यादा यात्री खाना खाने के बाद बीमार पड़ गए लेकिन रेलवे की ओर उस वक़्त केवल एक महिला यात्री के बीमार पड़ने की पुष्टि की गई थी।

क्या था मामला

नई दिल्ली से भुवनेश्वर जा रही राजधानी एक्सप्रेस में सामान्य दिनों की तरह ही शनिवार रात खाना परोसा गया। ये खाना खाने के बाद कई यात्रियों को असहजता महसूस हुई। कुछ ही देर में यात्रियों को उल्टी होने लगी और पेट खराब हो गए। हालात बिगड़ते देख इस घटना की सूचना रेल प्रशासन को दी गई। ट्रेन को बोकारो रेलवे स्टेशन पर रोक कर ट्रेन में डॉक्टर भेजे गए और यात्रियों को इलाज उपलब्ध कराया गया। घटना के बाद लोग ने बोकारो रेलवे स्टेशन पर जमकर हंगामा किया था। हंगामे के चलते करीब 45 मिनट तक ट्रेन स्टेशन पर खड़ी रही। इसके बाद बोकारो से रवाना हुई। रेल यात्रियों ने खराब खाने की वजह से तबीयत खराब होने की शिकायत की। शुरुआत में एक महिला रेल यात्री ने गोमो रेलवे स्टेशन से पहले पेट खराब होने की शिकायत की थी। उसके लिए गोमो में डॉक्टर बुलाया गया उस महिला ने रात के खाने में चिकन खाया था।

 

Also Read:  Afghanistan ने स्थायी रूप से बंद किया दूतावास, जानें India में रहने वाले अफगानियों का क्या होगा?

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *