April 17, 2024

#World Cup 2023     #G20 Summit    #INDvsPAK    #Asia Cup 2023     #Politics

जल्द CM Yogi से मिल सकते हैं सपा नेता Manoj Pandey, सपा चीफ व्हिप पद से दिया इस्तीफा

0
Manoj Pandey

Manoj Pandey

Manoj Pandey: राज्यसभा चुनाव के मद्देनजर सपा समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव को बड़ा झटका लगा है। सपा के मुख्य सचेतक विधायक मनोज पांडे ने आज मंगलवार 27 फरवरी को इस्तीफा दे दिया। वहीं मनोज पांडे ने खुद अखिलेश यादव को पत्र भेजकर अपने पद से इस्तीफा देने की जानकारी साझा की है। खबरों से पता चला है कि पांडे ने बीजेपी के लिए क्रॉस वोटिंग करने का वादा किया है। इसके तहत मनोज आज दोपहार मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से मुलाकात भी कर सकते हैं।

बैठक में नहीं पहुंचे आठ विधायक

अखिलेश यादव ने पिछले हफ्ते ही एक बैठक बुलाई थी जिसमें मनोज पांडे समेत पार्टी के आठ विधायक मनोज पांडे और सात अन्य विधायक- मुकेश वर्मा, महराजी प्रजापति, पूजा पाल, राकेश पांडे, विनोद चतुवेर्दी, राकेश प्रताप सिंह और अभय सिंह बैठक में शामिल नहीं हुए। वहीं अखिलेश यादव ने विधानसभा में लगी मनोज पांडे के नाम की नेम प्लेट तक हटवा दी है।

Also Read: Arvind Kejriwal: केजरीवाल का केंद्र और बीजेपी पर आरोप, कहा, बीजेपी पर लगाए दिल्लीवालों से नफरत करने के आरोप

सनातनी हैं मनोज पांडे

योगी सरकार में मंत्री दयाशंकर सिंह ने कहा कि ”मनोज पांडे तो हमेशा से ही सनातन धर्म के पक्ष में रहे हैं। जब विधानसभा अध्यक्ष ने सभी विधायकों को अयोध्या चलने का न्योता दिया था तो मनोज पांडेय चाहते थे कि सपा विधायक भी साथ चलें। लेकिन सपा ने ऐसा नहीं किया। मनोज पांडे ने प्रधानमंत्री मोदी के नेतृत्व में विश्वास दिखा रहे हैं। वे अपनी अंतरात्मा की आवाज सुनकर वोट दे रहे हैं। ”

सपा विधायक ने लगाया जय श्री-राम का नारा

दरअसल उत्तर प्रदेश की 10 राज्यसभा सीटों के लिए सुबह 9 बजे से मतदान जारी हैं। वहीं जिसमें भाजपा के आठ और समाजवादी पार्टी के तीन उम्मीदवार शामिल हैं। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य और ब्रजेश पाठक और अखिलेश यादव पहले ही मतचदान कर चुके हैं। सपा विधायक राकेश प्रताप सिंह ने भाजपा के लिए क्रॉस वोटिंग की और ‘जय श्री राम’ का नारा लगाया।

भाजपा और सपा के उम्मीदवार की सूची

बीजेपी ने पूर्व केंद्रीय मंत्री आरपीएन सिंह, पूर्व सांसद चौधरी तेजवीर सिंह, पार्टी की उत्तर प्रदेश इकाई के महासचिव अमरपाल मौर्य, पूर्व राज्य मंत्री संगीता बलवंत बिंद, पार्टी प्रवक्ता सुधांशु त्रिवेदी, पूर्व विधायक साधना सिंह, आगरा के पूर्व मेयर नवीन जैन इन उम्मीदवारों को मैदान में उतारा है। वहीं, समाजवादी पार्टी ने सांसद जया बच्चन, रिटायर्ड आईएएस अधिकारी आलोक रंजन और दलित नेता रामजी लाल सुमन को बीजेपी के सामने मैदान में उतारा है।

कौन हैं मनोज कुमार पांडेय?

मनोज कुमार पांडेय ऊंचाहार से विधायक हैं। उनका जन्म 15 अप्रैल 1968 को रायबरेली में हुआ था। वह 2012 से विधायक हैं। मनोज कुमार सपा की अखिलेश यादव सरकार में कैबिनेट मंत्री भी रह चुके हैं। मनोज ने छत्रपति शिवाजी महाराज विश्वविद्यालय कानपुर से शिक्षा प्राप्त की है।

सपा-बीजेपी के बीच मुकाबला टक्कर का

बता दें कि पहले से अंदेशा लगाया जा रहा था कि सपा के कुछ विधायक क्रॉस वोटिंग कर सकते हैं। मनोज पांडेय का इस्तीफा भी इसी कयासों के बीच आया है। बीजेपी के 8 और सपा के तीन उम्मीदवार चुनावी मैदान में उतरे हैं। फिलहाल आठवें उम्मीदवार को जिताने के लिए बीजेपी के पास 10 वोट कम हैं।

यूपी विधानसभा में किस दल के पास कितने विधायक?

गौरतलब है कि यूपी विधानसभा में कुल 403 सदस्य हैं जिसमें भाजपा के पास 252, सपा के पास 108 विधानसभा सदस्य हैं। इसके अलावा कांग्रेस के पास 2 सीटें हैं, जबकि बीजेपी की सहयोगी अपना दल (सोनेलाल) के पास 13, निषाद पार्टी के पास 6, राष्ट्रीय लोकदल (RLD) के पास 9, सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी (SBSP) के पास 6, जनसत्ता दल के पास 2 और बसपा के पास एक सीट है। साथ ही चार सीटें खाली हैं।

 

Also Read: Delhi CM: अरविंद केजरीवाल ने दिल्ली में सरकार चलाने के लिए, बीजेपी को सुनाई खरी-खोटी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *