April 17, 2024

#World Cup 2023     #G20 Summit    #INDvsPAK    #Asia Cup 2023     #Politics

Delhi CM: अरविंद केजरीवाल ने दिल्ली में सरकार चलाने के लिए, बीजेपी को सुनाई खरी-खोटी

0
Arvind-Kejriwal

Arvind-Kejriwal

Delhi CM: राजनीतिक सुर्खियों में बने केजरीवाल को फिर से ईडी ने तलब किया था। और हर बार की तरह सीएम साहब इस बार भी पेश नहीं हुए। इसपर बात करते हुए आम आदमी पार्टी ने कहा कि अरविंद केजरीवाल ईडी के समन पर आज उनके सामने पेश नहीं होंगे, क्योंकि अभी ये मामला कोर्ट में चल रहा है, जिसकी अगली सुनवाई 16 मार्च को होनी है। जांच एजेंसी रोज रोज समन भेजने की जगह कोर्ट के फैसले का इंतजार करें।

केजरीवाल को सांतवा नोटिस

बता दें कि शराबी नीति में हुए कथित घोटाला मामले में ईडी ने अरविंद केजरीवाल को सांतवा नोटिस 22 फरवरी को जारी किया था और पूछताछ के लिए उन्हें 26 फरवरी यानि आज पेश होने का निर्देश दिया था। हालांकि AAP ने ईडी के इस समन को भी गैरकानूनी बताया था।

Also Read: Arvind Kejriwal: केजरीवाल का केंद्र और बीजेपी पर आरोप, कहा, बीजेपी पर लगाए दिल्लीवालों से नफरत करने के आरोप

शराब घोटाले से जुड़ा मामला

जानकारी के लिए बता दें कि जांच एजेंसियां सीबीआई और ईडी नई एक्साइज पॉलिसी 2021-22 में हुई कथित शराब घोटाले की जांच कर रही है। इसी मामले में अबतक ईडी केजरीवाल के करीबी मनीष सिसोदिया, संजय सिंह समेत कई अन्य कारोबारियों और कई लोगों को गिरफ्तार कर चुकी है।

केंद्र सरकार बाधा डालती है 

दरअसल अब लोकसभा चुनाव 2024 को देखते हुए केजरीवाल ने केंद्र की भाजपा सरकार पर जमकर भड़ास निकाली है। केजरीवाल ने हमेशा की तरह रविवार 25 फरवरी को प्रदर्शन के दौरान आप कार्यकर्ताओं को संबंधित करते हुए केंद्र सरकार पर निशाना साधाते हुए कहा कि ”भाजपा और केंद्र सरकार उनके हर काम में बाधा डालती रहती है। केजरीवाल दिल्ली में गलत पानी के बिल को माफ करने के लिए एक योजना लाना चाहते हैं। लेकिन भाजपा इसे लागू नहीं होने देना चाहती।”

बिल पेपर को फाड़ फेंका 

लेकिन दिल्लीवासियों का बिल लाखों में आया है। ऐसे में सवाल उठाता है केजरीवाल आगामी चुनाव में अगर फिर से सीएम बन जाते हैं तो इस बिल को किसके पैसे से भरेंगे। उनकी सरकार पर तो पहले से ही लगभग 41 करोड़ तक का कर्जा है। वहीं जो लाखों का बिल आया है उस बिल पेपर को भी केजरीवाल ने फाड़ कर फेंक दिया है।

 

Also Read: Jaahnavi Kandula Death Case में आई रिपोर्ट पर भारत को आपत्ति, भारतीय दूतावास ने अधिकारियों के सामने उठाया मामला

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *