March 3, 2024

#World Cup 2023     #G20 Summit    #INDvsPAK    #Asia Cup 2023     #Politics

नहीं बंद होंगी नॉनवेज की दुकाने और होटल, बाबा बालमुकुंद का किया मुसलमानो ने भी समर्थन

0
balaknath

balaknath

 Rajasthan: जयपुर की हवामहल सीट से विधायक बने बाबा बालमुकुंद आचार्य का सोशल मीडिया पर इन दिनों एक वीडियो खूब वायरल हो रहा है। जिस वीडियो में उन्होंने कहा था कि सड़कों पर कोई भी नॉनवेज फूड नहीं बेचा जाना चाहिए। साथ ही अधिकारी को ऐसे सभी ठेलों को हटाने का भी आदेश दिया था जो नॉनवेज खाना बेचते हैं।

अब इस पर कुछ मुस्लिम लोग भी बाबा बालमुकुंद आचार्य के समर्थन में आए हैं। एक मुस्लिम महिला ने बताया कि गलतफहमियों से दूर रहें। आचार्य किसी के भी साथ दोगलापन नहीं करेंगे।

मुस्लिम बाबा बालमुकुंद के साथ

राजस्थान की राजधानी जयपुर के हवामहल सीट से नए-नए विधायक बने बीजेपी के बाबा बालमुकुंद आचार्य नतीजे आने के 24 घंटे बाद ही सड़कों पर लगने वाले नॉनवेज फूड के ठेलों को बंद कराने पहुंच गए थे। उनका वीडियो खूब वायरल हुआ जिसमें वो कह रहे हैं कि शाम तक सभी गलियां साफ हो जानी चाहिए। जिसके बाद आचार्य ने अपने बयान पर सफाई भी दी। लेकिन अब उनके समर्थन में कुछ मुस्लिम लोग भी आए हैं। एक मुस्लिम महिला ने कहा कि “बालमुकुंद के बयान को गलत तरीके से पेश किया गया है।”

महिला ने आचार्य के बयान पर सफाई दी

महिला ने कहा, ”मैं सभी मुस्लिम भाइयों से गुजारिश करूंगी कि बालमुकुंद के बारे में जो गलतफहमियां फैलाई जा रही हैं उन पर ध्यान न दें। किसी की भी गोश्त की दुकान, होटल या ठेला बंद नहीं होगा। उन्होंने सिर्फ अवैध तरीके से चलाई जा रही दुकानों पर एक्शन लेने की बात कही है और ऐसा तो हमारे संविधान में भी लिखा है। हम लोग अल्लाह से डरने वाले लोग हैं। हमें किसी और से डरने की जरूरत नहीं है। बेमतलब की अफवाहों को इग्नोर करें। किसी भी मुस्लिम भाई के साथ दोगलापन नहीं होगा।”

बालमुकुंद की वायरल वीडीयो पर सफाई

अपने बयान पर इससे पहले बालमुकुंद आचार्य ने भी सफाई दी थी। उन्होंने बताया कि ऐसी बात क्यों कही। उन्होंने कहा कि “ये हिन्दू-मुस्लिम की बात नहीं है।” आचार्य ने इसके पांच कारण भी बताए। बालमुकुंद आचार्य ने कहा, “हम मांस की दुकानें बंद कराने नहीं गए थे, हमने कहा अवैध बूचड़ खाने, जो रोड पर बना रहे हैं और बेच रहे हैं इसमें से ज्यादातर बांग्लादेशी हैं, उनकी जांच करो। दूसरा कारण ये है जो लोग मांस बेच रहे हैं उनके पास लाइसेंस है क्या? तीसरा कारण हमारे पास शिकायत आई है कि ये सफेद मांस बेच रहे हैं, मतलब ये गाय का मांस बेच रहे हैं चौथा कारण ये है कि 40 से 50 फीट रोड पर कब्जा कर बेच रहे हैं और पांचवां कारण ये हैं कि यहां का मौहाल खराब हो रहा है, पर्यटक आते हैं यहां की तस्वीर खींच कर ले जाते हैं जिससे विदेश में छवि खराब हो रही है।”

उन्होंने आगे कहा, ‘”जयपुर में अपराकाशी इलाके में घर से ज्यादा मंदिर हैं, आमेर से लेकर जयपुर तक मंदिर ही मंदिर हैं। जनसंपर्क के दौरान माताएं-बहनें कहती थीं कि जब वो यहां मंदिर जाती हैं तो रास्ते में नॉनवेज की इतनी दुकानें हैं जिस वजह से कुत्ते उन्हें काट लेते हैं। रोड पर टुकड़ा पड़ा रहता है जो कपड़ों या पैर के नीचे आ जाता है जिससे उन्हें समस्या होती है, इसलिए उन्होंने ऐसा किया।”

Also Read: बाबरी विवाद – पांच सो साल का इतिहास, कैसे जीती कानूनी लड़ाई?

बता दें कि राजस्थान में रविवार को चुनाव नतीजे आने के बाद सोमवार को बालमुकुंद आचार्य अपने क्षेत्र में पहुंचे और एक सरकारी अधिकारी को फोन कर चेतावनी दी थी कि सड़कों पर कोई भी नॉनवेज फूड नहीं बेचा जाना चाहिए। शाम तक सभी गलियां साफ हो जानी चाहिए। उन्होंने अधिकारी को ऐसे सभी ठेलों को हटाने का भी आदेश दिया था जो नॉनवेज खाना बेचते हैं।

हवामहल सीट पर बीजेपी के बालमुकुंदाचार्य ने जीत हासिल की है। उन्होंने कांग्रेस के आरआर तिवारी को 974 वोटों के अंतर से हराया है। कांग्रेस ने संगठन से जुड़े आरआर तिवारी पर दांव खेला था। उन्होंने बाल मुकुंद आचार्य को कांटे की टक्कर जरूर दी लेकिन फिर भी भाजपा के बाल मुकुंदाचार्य से हार गए।

 

Also Read: Railway Guidelines: कर रहे हैं बिना टिकट रेल यात्रा,तो आपको बचाएंगे रेलवे के यह नियम

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *