April 13, 2024

#World Cup 2023     #G20 Summit    #INDvsPAK    #Asia Cup 2023     #Politics

Lok Sabha Election 2024: केंद्रीय मंत्री के बयान पर भड़की शिवसेना-कांग्रेस, भाजपा पर लगाया झुग्गीवासियों को बेघर करने का आरोप

0
Piyush Goyal and Aditya Thakre

Piyush Goyal and Aditya Thakre

 Lok Sabha Election 2024: लोकसभा चुनाव 2024 को लेकर राजनीतिक पीर्टियां तयारियों में जुटी हैं। लोकसभा चुनाव में अब अधिक समय भी नहीं बचा है। ऐसे में पार्टियां एकदूसरे पर निशाना साधने में लगा हुई हैं। इसी कम्र में विपक्ष ने केंद्र की भाजपा सरकार यानी (भारतीय जनता पार्टी, BJP) पर हमला बोला है। मुंबई उत्तर सीट से बीजेपी प्रत्याशी व केंद्रीय मंत्री पीयूष गोयल (Piyush Goyal) के एक बयान से महाराष्ट्र की सियासत में उथल-पुथल देखने को मिल रही है। शिवसेना (UBT) और कांग्रेस ने केंद्रीय मंत्री पीयूष गोयल के बयान की कड़ी निंदा की है। 

 झुग्गीवासियों को घरों से निकाल रही बीजेपी

बीजेपी ने इस बार मुंबई उत्तर सीट से केंद्रीय वाणिज्य मंत्री पीयूष गोयल को प्रत्याशी बनाया है। प्रत्याशी बनने से पुहले पीयूष गोयल ने अपने बयान एक बयान के दौरान कहा था कि ‘’अगर वह मुंबई उत्तर सीट से उम्मीदवार चुने जाते हैं तो उनकी प्राथमिकता झुग्गीवासियों का पुनर्वास करना होगी। वह नमक वाली भूमि का इस्तेमाल झुग्गी-झोपड़ियों में रहने वाले लोगों को बसाने के लिए कर सकते हैं।’’ गोयल के इस फैसले पर कांग्रेस और शिवसेना ने आरोप लगाते हुए कहा कि ‘’यह झुग्गीवासियों को उनके घरों से स्थानांतरित करने जैसा होगा।’’

Also Read: ‘INDIA’ में शामिल नहीं होंगे Chirag Paswan के चाचा Pashupati Paras , नहीं करेंगे BJP से बगावत

विकास विरोधी एजेंडे को दर्शाना

’’पीयूष गोयल ने कांग्रेस और शिवसेना को मुहं-तोड़ जवाब देते हुए कहा कि ‘’झुग्गी-झोपड़ियों में रहने वाले लोगों को भी जीने का पूरा अधिकार है। शहर को बदलने के किसी भी दृष्टिकोण का विरोध करना विकास विरोधी एजेंडे को दर्शाता है।’’

अधिकारों को छीनने की इच्छा रखती भाजपा

शिव सेना (UBT) नेता उद्धव ठाकरे के बेटे आदित्य ठाकरे ने गोयल पर निशाना साधते हुए कहा कि ‘’उनकी पार्टी झुग्गीवासियों को उनके मौजूदा स्थान से हटाकर नमक वाले भूमि पर बसाने के किसी भी कदम का विरोध करती है। झुग्गी-झोपड़ियों में रहने वालों को नमक वाली भूमि पर मजबूर करना ऐसी चीज नहीं है, जिसकी हम अनुमति देंगे।’’

आजीविका पर पड़ेगा असर 

आदित्य  ने आगे कहा कि ‘’भले ही आप हमारे संविधान को बदलने और उनके अधिकारों को छीनने की इच्छा रखते हों, लेकिन हम आपके रास्ते में खड़े होंगे।’’ उन्होंने कहा कि ‘’जो लोग झुग्गी-झोपड़ियों में रहते हैं, उसके पास ही वे नौकरी करते हैं। इन्हें स्थानांतरित करने से उनकी आजीविका पर असर पड़ेगा।’’

झुग्गीवासियों को पुनर्स्थापित करें 

मुंबई कांग्रेस की अध्यक्ष वर्षा गायकवाड़ ने भी पीयूष गोयल के बयान पर आपत्ति जताते हुए कहा कि ”झुग्गीवासियों को उसी स्थान पर पुनर्स्थापित किया जाना चाहिए, जहां वे रह रहे हैं।”

बेहतर जीवन जीने का अधिकार 

वहीं पीयूष गोयल ने भी आदित्य ठाकरे पर निशाना साधा है और कहा कि ‘’उद्धव ठाकरे और उनके बेटे मुंबई का भाग्य तय नहीं कर सकते। जो लोग शहर की मलिन बस्तियों में रहते हैं, उन्हें बेहतर जीवन का पूरा अधिकार है।” 

समाज में कलह पैदा करना  

गोयल  ने यह भी  कहा है कि ‘’हमारी सरकार हर व्यक्ति को एक अच्छा घर उपलब्ध कराने और जहां वे रहते हैं, उस स्थान का पुनर्वास करने में जुटी है। उद्धव का बदनाम, निराश, हतोत्साहित और पटरी से उतर गया नेतृत्व समाधान नहीं दे सकता, बल्कि समाज में कलह ही पैदा करता है।’’

Also Read: Sunita Kejriwal ने पति को बताया देशभक्त, केजरीवाल का मोर्चा संभाल पाएंगी पत्नी सुनिता?

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *