April 17, 2024

#World Cup 2023     #G20 Summit    #INDvsPAK    #Asia Cup 2023     #Politics

Uttarakhand News: हल्द्वानी हिंसा के मास्टरमाइंड को पुलिस ने किया गिरफ्तार, जानें कौन है अब्दुल मलिक?

0
Haldwani

Haldwani

Uttarakhand News: 8 फरवरी को उत्तराखंड के हल्द्वानी जिले के बनभूलपुरा में हुई हिंसा का मास्टरमाइंड अब पुलिस की गिरफ्त में है। मास्टमाइंड अब्दुल मलिक को पुलिस ने दिल्ली से गिरफ्तार कर लिया है। पहले पुलिस ने अब्दुल मलिक को लुकआउट जारी किया था। हिंसा के बाद से ही पुलिस आरोपी की तलाश में थी।

दिल्ली से पकड़ा गया आरोपी

बता दें कि आरोपी अब्दुल मलिक ने हल्द्वानी की सेशन कोर्ट में अग्रिम जमानत याचिका भी दायर की हुई है, जिस पर 27 फरवरी को सुनवाई होनी है। लेकिन उससे पहले ही पुलिस ने आरोपी को दिल्ली से पकड़ लिया।

Also Read: Loksabha Election 2024: काशी में PM Modi का विपक्ष पर वार, अजय राय के साथ कांटे की होगी टक्कर?

मलिक का हिंसा से कोई लेना देना नहीं

आरोपी के वकील की तरफ से आए बयान में कहा गया है कि ”उनको पता चला कि अब्दुल मलिक को दिल्ली से गिरफ्तार कर लिया गया है, जबकि मलिक का हिंसा से कोई लेना देना ही नहीं है। जब ये हिंसा हुई, उससे तीन- चार दिन पहले से ही वह हल्द्वानी से बाहर थे।”

वसूली नोटिस किया गया जारी

बता दें कि इससे पहले हल्द्वानी नगर निगम ने कार्रवाई करते हुए 8 फरवरी को हुई हिंसा के मामले में मुख्य आरोपी अब्दुल मलिक के खिलाफ सरकारी संपत्तियों को नुकसान पहुंचाने के आरोप में वसूली का नोटिस जारी किया था। वसूली नोटिस कुल 2.44 करोड़ रुपये का था। उसमें मलिक के समर्थकों पर ‘मलिक का बगीचा’ में अतिक्रमण हटाने, पुलिस टीम पर हमला करने और नगर निगम की संपत्तियों को नुकसान पहुंचाने की बात कही गई है।

हल्द्वानी हिंसा का मुख्य कारण

दरअसल हिंसा के दिन (8 फरवरी) शहर में दंगा भड़क गया था जिसके बाद पुलिस बल और नगर निगम के कर्मचारियों पर हमला और एक पुलिस स्टेशन में आग लगाने की घटना को अंजाम दिया गया था। बता दें कि मलिक पर एक अवैध संरचना का निर्माण कराने का आरोप है, जिसे हटाने के दौरान शहर में हिंसा भड़क गई थी। इस हिंसा में छह लोगों को मौत हो गई थी और 100 से अधिक लोग घायल हो गए थे जिसमें कई पुलिसकर्मी और मीडिया के लोग भी शामिल थे। मदरसा और पास मौजूद एक संरचना है, जिसका इस्तेमाल प्रार्थना के लिए होता था, उसे हटाने के लिए हिंसा भड़की जिस दौरान पांच दंगाइयों सहित छह लोगों की मौत हो गई थी, जबकि 60 लोग घायल हो गए थे।

haldwani

 

Also Read: Jaahnavi Kandula Death Case में आई रिपोर्ट पर भारत को आपत्ति, भारतीय दूतावास ने अधिकारियों के सामने उठाया मामला

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *