March 2, 2024

#World Cup 2023     #G20 Summit    #INDvsPAK    #Asia Cup 2023     #Politics

Naag Panchami 2023: शुक्ल पक्ष की नाग पंचमी, जानिए शुभ मुहूर्त, पूजा की सामग्री और विधि

0
Shukla Paksha Naag Panchami

Shukla Paksha Naag Panchami 2023: हिंदू धर्म शास्त्रों में नाग की पूजा को बहुत महत्व दिया गया है। वहीं नाग देवता को भोलेनाथ के गले का आभूषण माना जाता है। हिंदू पंचांग के अनुसार हर वर्ष सावन मास के शुक्ल पक्ष की पंचमी तिथि को ‘नाग पंचमी’ मनाई जाती है।

मान्यता है कि इस दिन नाग देवता के पूजन से सभी मनोवांछित फलों की प्राप्ति होती है। आइए जानते हैं नाग पंचमी (Shukla Paksha Naag Panchami) के दिन पूजा का शुभ मुहूर्त, सामग्री लिस्ट और विधि…

नाग पंचमी 2022 शुभ मुहूर्त

Shukla Paksha Naag Panchami

सावन शुक्ल पक्ष की पंचमी तिथि 21 अगस्त 2023 की मध्य रात्रि 12 बजकर 21 मिनट से शुरू हो जाएगी जो अगले दिन यानी 22 अगस्त की रात्रि 02 बजे समाप्त हो जाएगी। इस तरह से नाग पंचमी का त्योहार 21 अगस्त 2023, सोमवार के दिन है। ज्योतिष शास्त्र के अनुसार नाग पंचमी 2023 पूजा के लिए शुभ मुहूर्त सुबह 05 बजकर 53 मिनट से सुबह 08 बजकर 30 मिनट तक निर्धारित किया गया है।

पूजा सामग्री

Shukla Paksha Naag Panchami

नाग देवता की मिट्टी की मूर्ति या तस्वीर, कुमकुम, सिंदूर, अक्षत, चंदन, लकड़ी का पट्टा, दही, दूध, पंचामृत, चीनी, शहद, बिल्वपत्र, फूल माला, पान का पत्ता, कुशा, हरिद्रा, घी, खीर, लड्डू, मालपुए, धूप, दीप, धान आदि।

पूजा विधि

Shukla Paksha Naag Panchami

नाग पंचमी (Shukla Paksha Naag Panchami) के दिन सुबह जल्दी उठें। अपने नित्य कर्मों से निवृत्त होकर स्नान करें। इसके बाद स्वच्छ वस्त्र धारण करके भोग के लिए खीर और सेवइयां बना लें।

मंदिर की साफ-सफाई करके वहां एक लकड़ी का पट्ठा रखें और उस पर लाल अथवा पीले रंग का कपड़ा बिछाएं। चौकी के ऊपर नाग देवता की तस्वीर या पत्नी स्थापित करें। इसके बाद जल अर्पित करें और पंचामृत से स्नान कराएं।

मंत्र

Shukla Paksha Naag Panchami

फिर चंदन, अक्षत, फूल, फल आदि सभी सामग्री अर्पित करें। पूजा सामग्री अर्पित करते समय ‘ॐ भुजंगेशाय विद्महे, सर्पराजाय धीमहि, तन्नो नाग: प्रचोदयात्’ मंत्र का उच्चारण करें। इसके बाद खीर, लड्डू और अन्य मिष्ठान का भोग लगाएं। इसके बाद धूप-दीप से नाग देव की आरती उतारें। पूजा के बाद हाथ जोड़कर मन में नाग देवता से प्रार्थना करें कि वह आपके जीवन के सभी कष्टों को दूर करें।

यह भी पढ़े:- समृद्धि के लिए वास्तु: घर के मंदिर में रखें ये चीजें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *