April 17, 2024

#World Cup 2023     #G20 Summit    #INDvsPAK    #Asia Cup 2023     #Politics

क्विन एलिजाबेथ के बाद King Charles तृतीय बनेंगे ब्रिटेन के नए सम्राट, जेम्स पैलेस की बालकनी से घोषित किया जाएगा राजा

0
King Charles-III

King Charles III: महारानी एलिजाबेथ द्वितीय के निधन के बाद किंग चार्ल्स तृतीय (King Charles III) को आज आधिकारिक तौर पर ब्रिटेन का राजा घोषित किया जाएगा. भारतीय समय के अनुसार दोपहर 2.30 बजे सेंट जेम्स पैलेस में किंग चार्ल्स तृतीय (King Charles III) को एक्सेशन काउंसिल की बैठक में राजा घोषित करने का ऐलान किया जाएगा. बता दें कि इससे पहले महाराजा चार्ल्स तृतीय ब्रिटेन के नए सम्राट के रूप में शुक्रवार को पहली बार बकिंघम पैलेस पहुंचे थे.

किंग चार्ल्स ने की प्रधानमंत्री लिज ट्रस से मुलाकात

King Charles III Liz Truss

दरअसल, किंग चार्ल्स तृतीय (King Charles III) अपनी पत्नी कैमिला के साथ लंदन में थे. महारानी एलिजाबेथ के निधन की खबर सुनकर वह पत्नी के साथ ब्रिटेन लौट आए हैं. किंग चाल्र्स ने ब्रिटेन की नई प्रधानमंत्री लिज ट्रस (Liz Truss) से मुलाकात की. इस दौरान उन्होंने ब्रिटेन के लोगों को पहली बार राजा की तरह संबोधित किया. किंग चार्ल्स ने अपने संबोधन में मां एलिजाबेथ को धन्यवाद कहते हुए आजीवन सेवा की शपथ ली. इसके साथ ही वह बकिंघम पैलेस के बाहर मौजूद लोगों से भी मिले. उन्होंने उनकी संवेदनाएं लेते हुए भरोसा दिलाया कि वो भी अपनी मां महारानी एलिजाबेथ की तरह कार्य करते रहेंगें.

13 सितंबर को लंदन आएगा रानी का कॉफिन

Queen Elizabeth Coffin

महारानी एलिजाबेथ के निधन के बाद उनके लिए कैथेड्रल में विशेष प्रार्थना सभा रखी गई है. ऑपरेशन यूनिकॉर्न के तहत रानी का कॉफिन ( जिसमें एलिजाबेथ का शव रखा गया है ) अभी स्काट्लंड के निवास होलीरूड में रहेगा. जिसे 13 सितंबर को लंदन लाया जाएगा. इसके अलावा आज शनिवार 10 सितंबर को जेम्स पैलेस की बालकनी से किंग चार्ल्स तृतीय (King Charles III) को राजा घोषित किया जाएगा. यह ऐतिहासिक समारोह सेंट जेम्स पैलेस में औपचारिक निकाय के सामने होगा जिसे पदग्रहण परिषद के तौर पर जाना जाता है.

समारोह में शामिल होंगी ये हस्तियां

King Charles-III

किंग चार्ल्स तृतीय (King Charles III) को राजा घोषित करने के कार्यक्रम में 700 से ज्यादा लोग शामिल हो सकते हैं. इनमें वरिष्ठ सांसदों का एक समूह, पुराने और मौजूदा समय में कुछ वरिष्ठ सिविल सेवक, राष्ट्रमंडल उच्चायुक्तों और लंदन के लॉर्ड मेयर शामिल होते हैं. बता दें कि आमतौर पर ऐसे समारोह में सैद्धांतिक तौर से 700 से अधिक लोगों के शिरकत करने का प्रवाधान है. लेकिन शॉर्ट नोटिस को देखते हुए कम लोगों के ही मौजूद रहने की संभावना है. बता दें कि ब्रिटेन की महारानी एलिजाबेथ द्वितीय का अंतिम संस्कार 19 सितंबर को होगा. जिसमें कई देशों के राजनीतिक हस्तियां शामिल हो सकती हैं.

ये भी पढ़ें- nupur sharma को पैगंबर विवाद मामले में सुप्रीम कोर्ट से बड़ी राहत, गिरफ्तारी की मांग वाली याचिका खारिज

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *