April 13, 2024

#World Cup 2023     #G20 Summit    #INDvsPAK    #Asia Cup 2023     #Politics

उत्तर प्रदेश पुलिस ने बनाई ऐसी योजना कि अब पकड़ में आएंगे उमेश पाल हत्याकांड के बचे हुए आरोपी

0
Umesh Pal Murder Case

प्रयागराज के सबसे चर्चित उमेश पाल हत्याकांड (Umesh Pal Murder Case) के लगभग 81 दिनों के बाद भी उत्तर प्रदेश पुलिस (UP Police) और एसटीएफ को इस हत्याकांड (Umesh Pal Murder Case) में शामिल लोगों में चार लोग शाइस्ता, गुड्डू, साबिर और अरमान की तलाश है।

इस बीच पुलिस ने शाइस्ता, गुड्डू बमबाज और साबिर शूटर के खिलाफ एक बड़ा एक्शन लिया है। पुलिस ने तीनों के खिलाफ लुक आउट नोटिस जारी किया है।

तीनों के खिलाफ 1 महीने का लुकआउट नोटिस जारी किया

उमेश पाल हत्याकांड (Umesh Pal Murder Case) में मास्टरमाइंट शाइस्ता परवीन और बमबाज के नाम से मशहूर गुड्डू मुस्लिम के अलावा शुटर साबिर पर भी पुलिस ने 1 महीने का लुकआउट नोटिस जारी किया है। पुलिस ने बमबाज गुड्डू मुस्लिम और शुटर साबिर पर 5 लाख जबकि शाइस्ता परवीन पर 50 हजार रुपए का इनाम भी घोषित कर रखा है उसके बावजूद भी अभी तक ये तीनों पुलिस को लगातार चकमा देकर अभी तक पुलिस की गिरफ्त से बाहर हैं।

तीनों छोड़ सकते हैं देश

Umesh Pal Murder Case

Umesh Pal Murder Case : सुत्रों के अनुसार पुलिस को ये भनक लगी है कि शाइस्ता, गुड्डु और साबिर के साथ एक और शुटर अरमान भी है और इनमें से शाइस्ता, गुड्डू मुस्लिम और साबिर किसी भी समय देश छोड़कर भाग सकते हैं इसी खबर के आधार पर अब पुलिस ने इन तीनों के खिलाफ लुकआउट नोटिस जारी किया है। ताकि ये तीनों लोग देश छोड़कर न भाग सकें।

ये लुकआउट नोटिस एक महीने के लिए है क्योंकि पुलिस को सुत्रों से पता चला है कि ये तीनों देश छोड़ने का षंडयत्र रच रहे हैं इसलिए इन तीनों को लेकर पुलिस ने अलर्ट जारी कर दिया है।

चार बार हाथ से फिसल चुका है गुड्डू मुस्लिम

Umesh Pal Murder Case

वहीं इस हत्याकांड (Umesh pal murder case) में शामिल अतीक अहमद के बेटे असद के अलावा पुलिस 3 लोगों का एनकांउटर कर चुकी है जबकि अतीक अहमद और उसके भाई की पुलिस कस्टडी के दौरान कुछ लोगों ने गोली मार कर हत्या कर दी थी। अब इस हत्याकांड में शामिल इस हत्या की मास्टरमाइंट कही जाने वाली शाइस्ता परवीन के अलावा बमबाज गुड्डू मुस्लिम और 2 शूटर बचे हैं जिनकी तलाश में एसटीएफ और पुलिस लगातार छापेमारी कर रही है

बताया जा रहा है कि पुलिस और एसटीएफ के हाथों से चार बार गुड्डू मुस्लिम फिसल चुका है। सुत्रों के अनुसार अतीक और असरफ की मौत से पहले गुड्डू मुस्लिम लगातार उनके संपर्क में था वही दोनों गुड्डू मुस्लिम को भागने और रुकने का ठिकाना बता रहे थे।

आखिरी बार ओड़िशा में ट्रैक हुआ था गुड्डू मुस्लिम

Umesh Pal Murder Case

Umesh Pal Murder Case : गुड्डू मुस्लिम को ट्रैक कर रही STF की टीम ने बताया कि ओडिशा के बाद से गुड्डू मुस्लिम का कोई सुराग STF के हाथ नहीं लगा है। इसके पहले एसटीएफ के पास इनपुट था कि गुड्डू 5 मार्च को मेरठ से बस पकड़ कर दिल्ली ISBT बस अड्डा पहुंचा था। दिल्ली पहुंचते ही अंडरग्राउंड हुआ।

उसके बाद 21 मार्च को बिहार के भागलपुर में गुड्डू मुस्लिम की लोकेशन मिली। STF टीम यहां पहुंची उसके पहले गुड्डू मुस्लिम यहां से फरार हो गया। भागलपुर के बाद गुड्डू मुस्लिम रायगंज पहुंचा। कुछ दिन यहां रुकने के बाद यहां से भी फरार हो गया। 2 अप्रैल से 13 अप्रैल तक गुड्डू मुस्लिम उड़ीसा में रुका रहा।

STF की टीम के पहुंचने की भनक गुड्डू को लगी तो यहां पर वो अपने कपड़े और कुछ दवाइयां भी छोड़कर फरार हो गया। जिस घर में गुड्डू रुका था, वहां से STF की टीम को बीपी और शुगर की दवाइयां मिली थीं। गुड्डू को पनाह देने वाले शख्स ने पूछताछ में बताया कि गुड्डू काफी खांस रहा था और बीमार लग रहा था।

यह भी पढ़ें : The Kerala Story को लेकर फिर विवाद, जम्मू के इस मेडिकल कॉलेज में खूब चले लांत-घूंसे

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *