February 28, 2024

#World Cup 2023     #G20 Summit    #INDvsPAK    #Asia Cup 2023     #Politics

मायावती ने दलितों के मसीहा के लिए मांगा भारत रत्न, बोली दलित का तिरस्कार ठीक नहीं’

0
Mayawati

Mayawati

Mayawati: प्रधानमंत्री मोदी ने शुक्रवार को चौधरी चरण सिंह, पीवी नरसिम्हा राव और ग्रीन रिवॉल्यूशन के जनक डॉ. एमएस स्वामीनाथन इन तीन नामों को  भी भारत रत्न देने का ऐलान किया है। इससे पहले भाजपा के दिग्गज नेता लाल कृष्ण आडवाणी और कर्पूरी ठाकुर का नाम इस सर्वश्रेष्ठ सम्मान के लिए घोषित हो चुका है। इसा बीच उसके बाद बहुजन समाज पार्टी की राष्ट्रीय अध्यक्ष और उत्तर प्रदेश की पूर्व मुख्यमंत्री मायावती ने कांशीराम को भारत रत्न से सम्मानित करने की मांग की है।

मायावती ने कहा कि ”कांशीराम के द्वारा दलितों के हितों के लिए किया गया संघर्ष किसी से कम नहीं है। उन्हें भी देश का सर्वोच्च नागरिक पुरस्कार भारत रत्न मिलना ही चाहिए।”

Also Read: भारत रत्न से सम्मानित किए जाऐंगे पूर्व प्रधानमंत्री चौधरी चरण सिंह, पीवी नरसिम्हा राव और वैज्ञानिक एमएस स्वामीनाथन, पीएम ने किया ट्वीट

‘दलित का तिरस्कार ठीक नहीं’

मायावती ने एक्स पर एक पोस्ट किया और लिखा कि ”केन्द्र की मौजूदा भाजपा सरकार ने जिन भी हस्तियों को भारत रत्न से सम्मानित किया है, मैं उसका स्वागत करती हूं, लेकिन इस मामले में दलित हस्तियों का तिरस्कार और उनकी उपेक्षा करना ठीक नहीं है। सरकार को इस तरफ भी ध्यान देना चाहिए।”

मायावती ने आगे लिखा कि ”बाबा साहेब डा. भीमराव आंबेडकर को लंबे इंतजार के बाद वी पी सिंह की सरकार में भारत रत्न से सम्मानित किया गया। उसके बाद दलित व उपेक्षितों के मसीहा कांशीराम का इनके हितों में किया गया संघर्ष कोई कम नहीं है। इसलिए हमारी मांग है कि उन्हें भी ‘भारत रत्न’ से सम्मानित किया जाए।”

भारत रत्न मिलना करोड़ों किसानों का सम्मान

मुख्यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ ने चौधरी चरण सिंह को भारत रत्न दिये जाने की घोषणा का स्वागत किया है। उनका कहना है कि ”जननेता, किसानों के मसीहा, गांवों, अन्नदाता किसानों, शोषितों एवं वंचितों के उत्थान के लिए आजीवन समर्पित रहने वाले, पूर्व प्रधानमंत्री चौधरी चरण सिंह को ‘भारत रत्न’ प्रदान करने की घोषणा अभिनंदनीय है। वे सच्चे अर्थों में लोकतंत्र के साधक थे। यह गौरव राष्ट्र निर्माण में उनके अतुल्य योगदानों का सम्मान है।”

इस साल पांच हस्तियों को भारत रत्न

गौरतलब है कि केंद्र की मोदी सरकार ने 9 फरवरी को पूर्व प्रधानमंत्रियों चौधरी चरण सिंह और पीवी नरसिम्हाराव के साथ हरित क्रांति के जनक डॉ. एमएस स्वामीनाथन को भारत रत्न से सम्मानित करने का ऐलान किया है। इससे पहले, केंद्र सरकार ने बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री कर्पूरी ठाकुर और उप प्रधानमंत्री लालकृष्ण आडवाणी को भारत रत्न देने की घोषणा की थी।

 

Also Read: केन्द्र सरकार ने इन तीन नामों को भारत रत्न की लिस्ट में किया शामिल, अखिलेश को हुआ दर्द

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *