March 3, 2024

#World Cup 2023     #G20 Summit    #INDvsPAK    #Asia Cup 2023     #Politics

PFI कार्यकर्ताओं ने बंद के दौरान बीजेपी दफ्तर में लगाई आग, केरल से तमिलनाडु तक हुई भारी हिंसा

0

NIA Raid On PFI: केंद्रीय एजेंसियों द्वारा की गई कार्रवाई पर पॉपुलर फ्रंट ऑफ इंडिया ने कड़ा विरोध (PFI protest) जताया है. जिसके तहत पीएफआई ने आज शुक्रवार को केरल में सुबह से शाम तक के हड़ताल का ऐलान किया है. हड़ताल के दौरान कई जगहों पर भारी (PFI protest) बवाल हुआ है. बता दें कि जांच का विरोध कर रहे पीएफआई कार्यकर्ताओं ने केरल से लेकर तमिलनाडु तक जमकर तोड़फोड़ और उत्पात मचाया है. इसके साथ ही बीजेपी के दफ्तर में भी तोड़फोड़ की खबरें सामने आई है.

संपत्तियों को पहुंचाया नकुसान

बंद के दौरान केरल समेत अन्य जगहों पर भारी हिंसा की खबरें सामने आई है. इस दौरान प्रदर्शन कर रहे पीएफआई कार्यकर्ताओं (PFI protest) ने तमिलनाडु में बीजेपी के दफ्तर में ही आग लगा दिया. वहीं, कोच्चि और तिरुवनंतपुरम में भी सरकारी संपत्तियों को भारी नुकसान पहुंचाया गया है. तिरुवनंतपुरम में बंद का समर्थन कर रहे PFI के लोगों ने एक ऑटो-रिक्शा और एक कार को भी क्षतिग्रस्त कर दिया है. वहीं, प्रदर्शनकारियों ने कन्नूर में एक समाचार पत्र विक्रेता के वाहन पर पेट्रोल बम फेंक दिया. अलग-अलग जगहों पर हुई हिंसा में कई लोगों को चोट लगने की भी खबर सामने आई है.

प्रदर्शनकारियों ने कही ये बात

PFI protest

प्रदर्शन कर रहे एक पीएफआई के सदस्य ने कहा कि-हमारे शीर्ष नेताओं की गिरफ्तारी नियंत्रित दमनकारी शासन द्वारा फैलाए गए आतंक का हिस्सा है. इसके साथ ही पीएफआई के राज्य सचिव ए अबूबक ने कहा कि हमारी हड़ताल नियंत्रित शासन के फासीवादी उपायों का विरोध (PFI protest) करने के लिए है. हम सभी लोकतांत्रिक ताकतों से समर्थन की उम्मीद करते हैं. केंद्रीय जांच एजेंसियों की कार्रवाई को लेकर पीएफआई नेताओं ने कहा कि उनके कार्यालयों से जब्त किए गए कुछ जनसंपर्क दस्तावेजों को गुप्त दस्तावेज करार दिया गया है.

गिरफ्तार हुए थे 100 से ज्यादा कैडर

एनआईए

बता दें कि कल गुरुवार को जांच एजेंसी एनआईए और ईडी (NIA ED RAID) ने आतंकी टेरर फंडिंग मामलें में देश भर के 10 राज्यों में ताबड़तोड़ छापेमारी की थी. इस दौरान जांच एजेंसियों ने पीएफआई के कई जगहों पर छापेमारी करते हुए 100 से अधिक कैडरों को गिरफ्तार किया था. जिसमें पीएफआई दिल्ली प्रमुख परवेज अहमद भी शामिल है. बता दें कि जांच एजेंसियों ने तेलंगाना, केरल, आंध्र प्रदेश, कर्नाटक, उत्तर प्रदेश, महाराष्ट्र, दिल्ली, राजस्थान, बिहार समेत कई अन्य राज्यों में छापेमारी की थी. जिसके विरोध में (PFI protest) पीएफआई के कार्यकर्ता विरोध कर रहे हैं.

ये भी पढ़ें- गालीबाज नेता Shrikant Tyagi को हाईकोर्ट से मिली जमानत, 44 दिनों के बाद जेल से आएगा बाहर

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *