April 18, 2024

#World Cup 2023     #G20 Summit    #INDvsPAK    #Asia Cup 2023     #Politics

छापेमारी को लेकर विधानसभा में गरजे Manish Sisodia, बताया रेड के दिन की पूरी कहानी, कब कैसे और क्या-क्या हुआ

0
Manish Sisodia

नई दिल्ली: दिल्ली में नई शराब नीति को लेकर हुए घोटाले में डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया (Manish Sisodia) को आरोपी बनाया गया है. सीबीआई की छापेमारी के बाद उनपर 3 केस भी दर्ज किए गया है. जिसपर मनीष सिसोदिया (Manish Sisodia) ने दिल्ली विधानसभा में अपना बयान जारी किया है. जिसमें उन्होंने  खुद पर किए गए एफआईआर को पूरी तरह से फर्जी बताया है. इस दौरान उन्होंने रेड की सुबह से लेकर अब तक क्या-क्या हुआ सब कुछ बताया.

सूत्रों के हवाले से लिखी गई एफआईआर

Manish Sisodia

मनीष सिसोदिया (Manish Sisodia) ने सदन के अंदर अपने संबोधन में कहा कि मैंने अपने उपर हुए एफआईआर को पढ़ा है. यह पूरी तरह से फर्जी है. सिसोदिया ने आगे कहा कि मैं पहली बार देख रहा हूं कि जांच एंजेसी ने सूत्रों के हवाले के आधार पर पूरी एफआईआर लिखी है. मैंने भी पत्रकारिता किया है. लेकिन पहली बार देख रहा हूँ कि सूत्रों के हवाले से एफआईआर लिखी गई है. उन्होंने कहा कि मैं ईमानदारी से काम करता आया हूं और कभी भी एक पैसे की बेइमानी नहीं की है. एक नहीं हजारों रेड और कर लो. मेरे पास से कुछ नहीं निकलने वाला है.

बताया रेड के दिन का पूरा वाक्या

Manish Sisodia

गुरुवार को दिल्ली विधानसभा में मनीष सिसोदिया (Manish Sisodia) ने सदन को बताया कि रेड के दिन वह मंदिर जाने के लिए तैयार थे. इस बीच किसी ने मुझे न्यूयॉर्क टाइम्स अखबार की कटिंग व्हाट्सएप पर भेजी, जिसमें दिल्ली स्कूल मॉडल की अच्छी खबर छपी थी. इस दौरान सिसोदिया ने सदन में न्यूयॉर्क टाइम्स में छपी दो तस्वीर दिखाई. एक में दिल्ली के शिक्षा मॉडल की तस्वीर थी और दूसरा कोरोना काल के दौरान की थी. उन्होंने आगे कहा कि सीबीआई अधिकारी अच्छे थे. बस गलत लोगों के भेजे हुए थे.

अधिकारियों का किया स्वागत

CBI raid on Manish Sisodia

मनीष सिसोदिया (Manish Sisodia) ने आगे कहा कि मैंने सीबीआई के अधिकारियों का स्वागत किया. सीबीआई ने उनके पूरे घर में छान मारा. सोफा, बेड, आवास ऑफिस, आलमारी, बच्चों पत्नी और मेरे कपड़े सब छान मार लिया. लेकिन उनके हाथ कुछ भी नहीं मिला, जिसके बाद अधिकारी मेरा कंप्यूटर सिस्टम जब्त कर साथ ले गए. दिल्ली के एजुकेशन को आगे बढाने का काम बिल्कुल किया है. वो अगर बेईमानी है, तो…जो सजा हो, दे दो.

सिसोदिया (Manish Sisodia) ने इस दौरान बीजेपी पर हमला बोलते हुए कहा कि- 7 साल के अनुभव के आधार पर कह रहा हूं, एक सीरियल किलर की तरह चुनी हुई सरकारों को हटाने में जितनी मेहनत लगाते हो, उतने से कम में अच्छे स्कूल और अस्पताल बन जाते हैं. मनीष सिसोदिया ने बताया कि 14 घंटे तक रेड हुई, लेकिन एक पैसे का बईमानी नहीं मिला.

ये भी पढ़ें- कांग्रेस को बड़ा झटका, गुलाम नबी आजाद ने पार्टी के सभी पदों से दिया इस्तीफा, राहुल गांधी पर बोला हमला

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *