March 2, 2024

#World Cup 2023     #G20 Summit    #INDvsPAK    #Asia Cup 2023     #Politics

High Blood Pressure: हाई बीपी से हो सकता है हार्ट अटैक का खतरा, इन तरीकों से तुरंत पाएं आराम

0
High Blood Pressure

High Blood Pressure Care: अक्सर तनाव या गुस्से में लोगों को हाई ब्लड प्रेशर (High Blood Pressure) की समस्या होती है. कई लोग हाई बीपी की समस्या को नजरअंदाज कर देते हैं. डॉक्टरों की माने तो हाई बीपी से हार्ट अटैक (Heart Attack) का खतरा हो सकता है. ज्यादातर लोगों को ये तो पता होता है कि बीपी लो (Low BP) होने पर चीनी नमक का घोल लेना चाहिए या तुरंत कुछ मीठा खा लेना चाहिए. लेकिन हाई बीपी (High BP) होने पर ऐसा क्या करें कि मरीज की स्थिति जल्दी सामान्य हो जाए और हार्ट अटैक का खतरा भी कम हो जाए.

हाई बीपी के लक्षण

(High Blood Pressure)
हाई बीपी (High Blood Pressure) होने पर सिर घूमना या चक्कर आना, धड़कनें बढ़ना, सांस लेने में समस्या, सिरदर्द, नाक से ब्लड आना, सीने में दर्द या धुंधला दिखने लगना हो सकता है. कुछ लोगों को यूरिन में ब्लड भी आ जाता है. जरूरी नहीं है कि ये सभी लक्षण सभी लोगों में एक साथ नजर आएं. आमतौर पर इनमें से कोई दो या तीन लक्षण एक साथ नजर आते हैं. हाई ब्लड प्रेशर होने पर बचाव के कई सारे उपाय है.

भीड़ से तुरंत दूर हो जाएं

High Blood Pressure

हाई बीपी (High Blood Pressure) होने पर सबसे पहला काम ये करें कि भीड़ से तुरंत अलग हट जाएं. क्योंकि जब बीपी हाई होता है तो भीड़ के कारण घबराहट बढ़ सकती है. साथ ही लोगों की आवाज और ट्रैफिक इत्यादि का शोर ब्रेन पर अतिरिक्त प्रेशर डालता है, जो हार्ट अटैक जैसी गंभीर स्थितियों के कारक बनते हैं.

ताजी-खुली हवा में बैठें

High Blood Pressure

अब ताजी और खुली हवा में बैठ जाएं या लेट जाएं. एसी या फैन ऑन कर लें और गहरी सांस लें. अपना ध्यान सभी चीजों से हटाकर सिर्फ अपनी सांस पर केंद्रित करने का प्रयास करें.

गहरी सांसें लें

High Blood Pressure

ध्यान रखें कि गहरी सांस लेते समय नाक से सांस भरें और मुंह से निकालें. ऐसा करने से आपको तनाव मुक्त होने और ब्रीदिंग को नॉर्मल करने में मदद मिलेगी. शरीर में ऑक्सीजन का स्तर बढ़ेगा इससे हार्ट बीट और ब्लड फ्लो जल्दी कंट्रोल होंगे.

आंखें बंद करके लेट जाएं

High Blood Pressure

यदि आप पहले से हाई बीपी (High Blood Pressure) की दवा ले रहे हैं तो उस दवा का सेवन करें. यदि पहली बार इस तरह की समस्या हुई है या अभी तक आपने इस बीमारी का इलाज शुरू नहीं किया है तो अब आप शांति के साथ कम से कम आधा घंटे के लिए लेट जाएं. इसके बाद बिना नमक और शुगर की छाछ पिएं , फीका और ठंडा दूध पिएं या फिर नारियल पानी पिएं और इसके बाद जाकर तुरंत डॉक्टर को जरूर दिखाएं.

 

यह भी पढ़ें- Health Tips: हार्ट, कोलेस्ट्रॉल और लिवर को तंदरुस्त रखने के लिए पिएं किशमिश का पानी, गजब के फायदे

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *