March 1, 2024

#World Cup 2023     #G20 Summit    #INDvsPAK    #Asia Cup 2023     #Politics

EPFO की तरफ से मिल सकता है 7 करोड़ लोगों को तोहफा, पीएफ पर बढ़ सकती है ब्याज दर

0
epfo

epfo

EPFO: ईपीएफओ कर्मचारी भविष्य निधि संगठन ने 7 करोड़ से भी ज्यादा लोगों को तोहफा दिया गया है। हर साल मार्च में इन कर्मचारियों के पीएफ अकाउंट में ब्याज मिलता है। इसको लेकर अब ईपीएफओ ने एक बड़ा नया ऐलान किया है। खुशखबरी यह है कि पीएफ अकाउंट पर सालाना पहले वाले ब्याज में बढ़ोतरी हो सकती है। इसके तहत अब पीएफ खाताधारकों को साल भर पहले की तुलना में 0.10 फीसदी ज्यादा ब्याज मिलने वाला है।

इतना बढ़ा पीएफ पर ब्याज

खबरों के मुताबिक वित्त वर्ष 2023-24 के लिए पीएफ खाताधारकों को पीएफ अकाउंट में रखे पैसे पर ज्यादा रिटर्न मिलेगा। इससे पहले पीएफ खाताधारकों को वित्त वर्ष 2022-23 में 8.15 फीसदी की दर से और 2021-22 में 8.10 फीसदी की दर से ब्याज मिला था। इसका मतलब हुआ कि 2023-24 के लिए पीएफ खाताधारकों को साल भर पहले की तुलना में 0.10 फीसदी ज्यादा ब्याज मिलने जा रहा है।

Also Read: मायावती ने दलितों के मसीहा के लिए मांगा भारत रत्न, बोली दलित का तिरस्कार ठीक नहीं’

वित्त मंत्रालय की मंजूरी बाकी

अभी पीएफ पर लेटेस्ट ब्याज दर का आधिकारिक ऐलान नहीं हुआ है। वित्त वर्ष 2023-24 के लिए पीएफ खाताधारकों को किस दर से ब्याज मिलेगा, इसका निर्णय ईपीएफओ का सेंट्रल बोर्ड ऑफ ट्रस्टीज करता है। आज सीबीटी की अहम बैठक हुई, जिसमें पीएफ पर ब्याज को लेकर फैसला लिया गया है। सीबीटी के फैसले को अंतिम मुहर के लिए अब वित्त मंत्रालय के पास भेजा जाएगा। वित्त मंत्रालय की मंजूरी मिलने के बाद पीएफ पर ब्याज दर के बारे में आधिकारिक तौर पर ऐलान किया जाएगा।

7 करोड़ से ज्यादा को लाभ

ईपीएफओ के 7 करोड़ से ज्यादा सब्सक्राइबर हैं। खासकर प्राइवेट सेक्टर में नौकरी करने वालों के लिए ईपीएफओ के पास जमा पैसा सबसे बड़ी सोशल सिक्योरिटी है। प्राइवेट सेक्टर के कर्मचारियों की सैलरी से हर महीने एक तय हिस्सा पीएफ के नाम पर कटता है। अगर पीएफ पर ब्याज दर बढ़ जाता है तो इससे काफी लोगों को बहुत ज्यादा मात्रा में इसका लाभ मिलेगा। मध्य वर्ग के परिवारों को कुछ हद तक राहत मिलेगी।

 

Also Read: जानें क्यों हुआ पत्रकार निखिल वागले पर हमला, ऐसा क्या बोल गए वागले?

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *