Sawan Month: सावन माह का बहुत धार्मिक महत्व होता है। सावन का ज्योतिषीय महत्व भी होता है। सावन का महीना भगवान शिव को समर्पित माना जाता है। इस महीने में भगवान शिव को प्रसन्न करने के कई उपाय किए जाते हैं। इन उपायों में कुछ तंत्र-मंत्र होते हैं तो कुछ ज्योतिषीय उपाय होते हैं। ज्योतिषाचार्य के अनुसार सावन की महीने (Sawan Month) में यदि कुछ खास चीजें घर लाई जाए तो इससे शुभ फल जरुर प्राप्त होता है। साथ ही दुर्भाग्य भी दूर हो जाता है।

क्या है चमत्कारी चीज?

Sawan Month

शिवपुराण के अनुसार करोड़ों शिवलिंग की पूजा करने से जो फल प्राप्त होता है उतना ही फल पारद शिवलिंग की पूजा और दर्शन करने से मिलता है। लिंग पुराण में भी पारद शिवलिंग का काफी महत्व बताया गया है। माना जाता है कि जिस घर में पारद शिवलिंग की पूजा नियमित रूप से की जाती है, वहां सभी तरह की समस्याएं जैसे पितृ दोष, कालसर्प दोष, वास्तु दोष आदि समाप्त हो जाते हैं। सावन के महीने (Sawan Month) में पारद शिवलिंग की स्थापना घर में करने से शुभ फलों की प्राप्ति होती है।

एक मुखी रुद्राक्ष

Sawan Month

धर्म ग्रंथों के मुताबिक रुद्राक्ष की उत्पत्ति भगवान शिव के आंसुओं से हुई थी। साथ ही भगवान शिव इसे आभूषणों के रूप में भी ग्रहण करते हैं। शिवपुराण में भी रुद्राक्ष से जुड़ी हुई कुछ खास बातें बताई गई है। उसी के अनुसार एक मुखी रुद्राक्ष भगवान शिव का ही स्वरूप माना जाता है। जो भी व्यक्ति इसे गले में धारण करता है, उस पर मां लक्ष्मी हमेशा प्रसन्न रहती हैं। सावन के महीने (Sawan Month) में एक मुखी रुद्राक्ष या तो गले मे धारण करना चाहिए या फिर पूजा के स्थान पर रखकर इसकी रोज पूजा करनी चाहिए।

महामृत्युंजय मंत्र

Sawan Month

धर्म ग्रंथों के मुताबिक महामृत्युंजय मंत्र की रचना मार्कण्डेय ऋषि ने की थी। इस मंत्र में इतनी शक्ति है कि मरते हुए व्यक्ति को भी जीवनदान दे सकता है। इसी मंत्र शक्ति को यंत्र के रूप में संग्रहित कर महामृत्युंजय यंत्र की रचना की गई थी। सावन के महीने में महामृत्युंजय मंत्र को घर लाएं और इसकी स्थापना घर में करें। साथ ही रोज इसकी पूजा करने से हर परेशानी से बचा जा सकता है।

चांदी का शिवलिंग

Sawan Month

सावन के पवित्र महीने (Sawan Month) में चांदी से निर्मित शिवलिंग घर लेकर आएं और इसकी विधि-विधान से स्थापना अपने पूजा स्थान में करें। इससे आपको अवश्य ही धन लाभ की प्राप्ति होगी। साथ ही शिवलिंग की रोज पूजा करें। चांदी को देवी लक्ष्मी से संबंधित माना जाता है। चांदी के शिवलिंग की पूजा करने से गरीब भी अमीर बन जाता है।

गर्भ गौरी रुद्राक्ष

Sawan Month

यह एक विशेष प्रकार का रुद्राक्ष होता है जो कि दो होते हुए भी एक दूसरे से जुड़े रहते हैं। जिन लोगों के वैवाहिक जीवन में परेशानियां चल रही हों या फिर संतान प्राप्ति नहीं हो रही हो उन्हें ये रुद्राक्ष सावन के महीने (Sawan Month) में घर लाकर अपने पूजा स्थान पर रखना चाहिए। साथ ही रोज इसकी पूरी श्रद्धा से पूजा करनी चाहिए। इससे सभी परेशानियां दूर हो जाती हैं।

यह भी पढ़े:- कौन था पहला कांवडिया जिसने किया शिव का जलाभिषेक? जानिए इसके पीछे की रोचक कहानी

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *