April 19, 2024

#World Cup 2023     #G20 Summit    #INDvsPAK    #Asia Cup 2023     #Politics

क्या एक घोटाले से टूट जाएगी दीदी की पार्टी, पार्थ चटर्जी के कारण 2 खेमे में बटा ममता का गुट

0
West Bengal Teacher Recruitment Scam

क्या एक घोटाले से टूट जाएगी पार्टी

West Bengal Teacher Recruitment Scam: पश्चिम बंगाल में टीचर भर्ती घोटाले ने ममता बनर्जी की पार्टी के नेताओं में कई सवाल खड़े कर दिए है. बता दें कि राजनैतिक दल तृणमूल कांग्रेस की प्रमुख और पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी (Mamta Banerjee) ने अपनी पार्टी के मंत्री पार्थ चटर्जी पर अभी तक कोई एक्शन नहीं लिया है. जिस कारण उनकी पार्टी के अन्दर से ही बगावत की आवाज उठने लगी है.

पार्थ चटर्जी को किया जाए निष्कासित- महासचिव

West Bengal Teacher Recruitment Scam

West Bengal Teacher Recruitment Scam : बता दें कि गुरुवार को तृणमूल कांग्रेस के राज्य महासचिव कुणाल घोष ने मांग की हैं- कि मंत्री पार्थ चटर्जी को तुंरत पार्टी से निष्कासित किया जाए. हालांकि अभी तक न तो ममता बनर्जी और न ही टीएमसी की ओर से इस पर कोई आधिकारिक बयान आया है. गौरतलब है कि ममता सरकार के कई नेता चाहते है कि पार्थ चटर्जी को निष्कासित किया जाए ताकि पार्टी अपनी इज्जत बचा सके.

टीएमसी प्रवक्ता ने ट्वीट कर की मांग

West Bengal Teacher Recruitment Scam

West Bengal Teacher Recruitment Scam : पार्थ चटर्जी को पार्टी से निकालने की बात कहते हुए ममता की पार्टी के प्रवक्ता कुणाल घोष ने ट्वीट किया. उन्होंने लिखा-

पार्थ चटर्जी को मंत्रिमंडल तथा पार्टी के सभी पदों से तत्काल हटाया जाना चाहिए. अगर मेरा बयान गलत लगे, तो पार्टी के पास मुझे सभी पदों से हटाने का अधिकार भी है. मैं तृणमूल कांग्रेस के एक सैनिक की तरह काम करता रहूंगा. बहरहाल मुझे मुख्यमंत्री ममता बनर्जी और तृणमूल कांग्रेस के राष्ट्रीय महासचिव अभिषेक बनर्जी पर पूरा विश्वास है. मुझे उम्मीद है कि वह सही फैसला करेंगे.

उल्लेखनीय है कि घोष का यह बयान ऐसे समय में आया है जब विपक्षी दल, भारतीय जनता पार्टी और भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी चटर्जी के खिलाफ हमलावर है. वह लगातार पार्थ के खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं करने को लेकर तृणमूल कांग्रेस सरकार को निशाना बना रहें हैं.

अर्पिता मुखर्जी के घर से बरामद हुए 50 करोड़ रुपए

West Bengal Teacher Recruitment Scam

प्रवर्तन निदेशालय (ED) इस वक्त टीचर भर्ती घोटाले (West Bengal Teacher Recruitment Scam) से जुड़े मामले की जांच कर रही है, जिसमें उन्होंने पार्थ चटर्जी की करीबी अर्पिता मुखर्जी के घर पर लगभग 18 घंटे तक रेड की थी. बता दें कि इस रेड में अर्पिता के उत्तर कोलकाता के बेलघरिया स्थित फ्लैट से 29 करोड़ रुपए की नकदी बरामद की गई. इसके अलावा 5 किलो सोना भी बरामद किया गया था.

बीते दिनों प्रवर्तन निदेशालय ने उनके दक्षिण कोलकाता स्थित फ्लैट में भी रेड की थी, जहां से उन्हें 21 करोड़ रुपये की नकदी मिली थी, जिसके बाद उन्हें गिरफ्तार कर लिया गया था. गौरतलब है कि अगर दोनों घरों से रेड में मिली रकम को जोड़ दिया जाए तो वह 50 करोड़ होगी.

यह भी पढ़े- 18 घंटे चली रेड हुई खत्म, पार्थ चटर्जी की करीबी अर्पिता मुखर्जी के घर से बरामद हुए इतने करोड़ रुपए…

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *