March 3, 2024

#World Cup 2023     #G20 Summit    #INDvsPAK    #Asia Cup 2023     #Politics

Shabaash Mithu Review: ‘शाबाश मिठू’ में तापसी पन्नू ने किया कमाल, जानिए कैसी है फिल्म

0
https://dainikkhabarlive.com/?p=2841&preview=true

Shabaash Mithu Review: बॉलीवुड एक्ट्रेस तापसी पन्नू (Taapsee Pannu) की फिल्म शाबाश मिठू (Shabaash Mithu) रिलीज हो चुकी है। यह फिल्म भारतीय महिला क्रिकेट टीम (Indian Women Cricket Team) की कप्तान मिताली राज (Mithali Raj) की रियल लाइफ पर बेस्ड है, जिसमें तापसी पन्नू ने मिताली की भूमिका निभाई है।

ये फिल्म मिताली के साथ-साथ महिला क्रिकेट की हकीकत को दिखाती है। वहीं, फिल्म में मुमताज सोरकार (Mumtaz Sorcar) महिला क्रिकेटर झूलन गोस्वामी की भूमिका निभा रही हैं। कोच के किरदार में विजय राज (Vijay Raaz) ने भी कमाल का काम किया है।

फिल्म की कहानी

Shabaash Mithu Review

Shabaash Mithu Review: ‘शाबाश मिठू’ में मिताली के बचपन से लेकर क्रिकेटर बनने तक के सफर और उनके उतार चढ़ाव को बेहतरीन तरीके से दिखाया गया है। कहानी 8 साल की मिठू से शुरू होती है जो भरतनाट्यम सीखती है। अब कैसे वो डांसर से क्रिकेटर बनीं, उनके सामने क्या क्या चुनौतियां आई, परिवार समाज क्रिकेट बोर्ड सबका क्या रवैया रहा।कैसे महिला क्रिकेट टीम को सुविधाओं की कमी झेलनी पड़ी। ये सब जानने के लिए आपको फिल्म देखनी होगी।

तापसी की बेहतरीन परफॉरर्मेंस

Shabaash Mithu Review

Shabaash Mithu Review: डायरेक्टर श्रीजीत मुखर्जी का कहना है कि ये फिल्म क्रिकेट को ग्लैमराइज नहीं करती बल्कि महिला क्रिकेट की हकीकत को दिखाती है। मिताली की कहानी के साथ साथ किस तरह से महिला क्रिकेट आगे बढ़ा। ये कहानी बड़े सधे हुए तरीके से दिखाई गई है। तापसी पन्नू ने मिताली के किरदार को जीया है। उन्होंने काफी मेहनत की है ये साफ दिखता है।

तापसी यहां कोई ग्लैमरस डीवा नहीं लग रही हैं और उन्हें लगना भी नहीं है और यही उनकी खासियत है कि वो किरदार के हिसाब से खुद को ढाल लेती हैं। यहां आपको सिर्फ चौके छक्के लगाती तापसी नहीं दिखेंगी। मिताली के किरदार में उनके कई रूप दिखेंगे जो आपको सोचने पर भी मजबूर करेंगे कि इंडियन क्रिकेट टीम की कप्तान के साथ ऐसा हुआ था। ये तापसी की बेहतरीन परफॉरर्मेंस में से एक मानी जाएगी।

Shabaash Mithu Review: इस फिल्म की एक कमी ये कही जा सकती है कि ये थोड़ी स्लो है लेकिन श्रीजीत मुखर्जी का कहानी कहने का अंदाज ही यही है। इसमें वैसा तड़का नहीं है जो आम बॉलीवुड फिल्मों में होता है। ये फिल्म कई सवाल उठाती है। महिला क्रिकेट के साथ हुई बेरुखी के सवालों को ये फिल्म काफी मजबूत तरीके से उठाती है और वो सीन आपको काफी हैरान भी करते हैं। मिताली की कहानी के साथ साथ जिस तरह से महिला क्रिकेट के हाल को दिखाया गया है वो कमाल है।

यह भी पढ़ें- Hit The First Case Review: एक्शन थ्रिलर से भरपूर है राजकुमार राव की ‘हिट द फर्स्ट केस’, जानिए क्या है मिस्ट्री

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *