February 28, 2024

#World Cup 2023     #G20 Summit    #INDvsPAK    #Asia Cup 2023     #Politics

Ram Mandir: पाकिस्तान ने बाद अब राम मंदिर पर 57 मुस्लिम देशों को लगी मिर्ची, oic ने उगला ज़हर

0
Organisation of Islamic Cooperation

Organisation of Islamic Cooperation

Ram Mandir: हाल ही में अयोध्या राम मंदिर को आम भक्तों के लिए खोल दिया गया है। बीते 22 जनवरी को पीएम मोदी के हाथों राम मंदिर का भव्य उद्घाटन किया गया। राम मंदिर के उद्घाटन की चर्चा देश ही नहीं विदेशों में भी रही। हालांकि, राम मंदिर के उद्घाटन को लेकर कई लोगों को मिर्ची भी लगी है। देश ही नहीं विदेशों में भी राम मंदिर को लेकर लोगों को बेहद परेशानी हुई है। राम मंदिर को लेकर पाकिस्तान ने पहले ही नाराजगी जाहिर कर दी है। हालांकि, अब इसमें नए नाम जुड़ चुके हैं। बता दें कि पाकिस्तान के बाद 57 मुस्लिम देशों के संगठन ऑर्गेनाइजेशन ऑफ इस्लामिक कोऑपरेशन (OIC) ने राम मंदिर के प्रति जहर उगला है।

क्या है पूरा मामला?

दरअसल, ऑर्गेनाइजेशन ऑफ इस्लामिक कोऑपरेशन (OIC) ने अपने आधिकारिक बेवसाइट पर राम मंदिर के प्राण प्रतिष्ठा पर कड़ी प्रतिक्रिया दी है। उन्होंने एक बयान जारी किया जिसमें कहा कि हम इस्लामिक धर्म से ताल्लुक रखने वाली बाबरी मस्जिद को तोड़कर बनाए गए राम मंदिर की निंदा करते हैं। उन्होंने कहा कि जिस जगह पर राम मंदिर का निर्माण किया गया है, उस जगह पर पिछले 500 सालों से बाबरी मस्जिद थी। इस पर OIC ने राम मंदिर के उद्घाटन पर गंभीर चिंता भी जाहिर की है।

ये भी पढ़ें: Karpuri Thakur: पूर्व मुख्यमंत्री कर्पूरी ठाकुर को किया जाएगा भारत रत्न से सम्मानित, क्या ये है बीजेपी की राजनीतिक रणनीति

पाकिस्तान ने भी की थी बयानबाजी

इतना ही नहीं, राम मंदिर के प्राण प्रतिष्ठा को लेकर भारत के पड़ोसी मुल्क पाकिस्तान ने भी बयानबाजी की थी। हाल ही में पाकिस्तान के विदेश मंत्रालय ने एक बयान जारी कर कहा था कि बाबरी मस्जिद को तोड़कर, जिस जगह पर मंदिर बनाया गया है वो गलत है। वहीं, भारत के कारसेवकों ने साल 1992 में बाबरी मस्जिद को तोड़ दिया था, जो किसी भी तरह से सही नहीं था।

बाबरी मस्जिद को तोड़कर मंदिर बनाना गंभीर चिंता का विषय – OIC

पाकिस्तान के बाद OIC का राम मंदिर को लेकर दिया गया बयान चर्चा में है। OIC के महासचिव हिसेन इब्राहिम ताहा के हवाले से OIC ने कहा कि बाबरी मस्जिद को तोड़कर मंदिर बनाना गंभीर चिंता का विषय है। बता दें कि ये पहली बार नहीं है, जब OIC ने भारत से जुड़े किसी आंतरिक मुद्दे पर सवाल उठाए है। उन्होंने इससे पहले भारत सरकार के द्वार हटाए गए अनुच्छेद 370 और 35 A को लेकर प्रतिक्रिया दी थी और फैसले को गलत ठहराया था। उसके बाद अब राम मंदिर को लेकर इस तरह की बयानबाजी सामने आयी है।

ये भी पढ़ें: Shahrukh Inshallah: सलमान नहीं शाहरुख खान करेंगे ‘इंशाल्लाह’, भंसाली की फिल्म में किंग खान ने मारी एंट्री

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *