Queen Elizabeth Death

Queen Elizabeth II dies: ब्रिटेन की महारानी एलिजाबेथ द्वितीय का 96 साल की उम्र में गुरुवार को निधन हो गया है. महारानी एलिजाबेथ ने ब्रिटेन पर करीब 7 दशक से ज्यादा समय तक शासन किया. महारानी एलिजाबेथ द्वितीय के निधन (Queen Elizabeth II dies) पर पूरे देश के नेताओं ने शोक व्यक्त किया है. उनके निधन पर ब्रिटेन में 10 दिनों के लिए राष्ट्रीय शोक घोषित किया गया है. महारानी इतिहास के तमाम अहम पलों का हिस्सा रहीं. उनके निधन पर दुनियाभर के कई नेताओं ने शोक व्यक्त किया है. भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी ब्रिटेन की महारानी के निधन पर शोक जताते हुए शोक प्रकट किया है.

पिता की मौत के बाद गद्दी पर बैठी

Queen Elizabeth II dies

महारानी एलिजाबेथ द्वितीय अपने पिता किंग जॉर्ज के मौत के बाद ब्रिटेन की गद्दी पर बैठी. उनके पिता किंग जॉर्ज की मौत 6 फरवरी 1952 में हो गई थी. पिता की मौत के समय क्वीन एलिजाबेथ द्वितीय की उम्र मात्र 25 साल थी. जिस दिन उनके पिता की मौत हुई थी उसी दिन एलिजाबेथ द्वितीय ब्रिटेन की महारानी नियुक्त किया गया था. बाद में दो जून 1953 को उनका औपचारिक रूप से राज्याभिषेक किया गया था.

उस समय से लेकर अब तक महारानी एलिजाबेथ द्वितीय बतौर ब्रिटेन की महारानी गद्दी पर काबिज थी. उन्होंने अपने शासन काल में 15 प्रधानमंत्रियों के साथ काम किया. कल गुरुवार को उन्होंने इस दुनिया को अलविदा (Queen Elizabeth II dies) कह दिया.

घर पर ही हुई पूरी पढ़ाई

Queen Elizabeth II dies

ब्रिटेन की महारानी एलिजाबेथ द्वितीय का जन्म 21 अप्रैल 1926 में हुआ था. उनका पूरा नाम एलिजाबेथ एलेक्जेंडरा मैरी विंडसर है. किंग जार्ज पंचम के बाद क्वीन एलिजाबेथ द्वितीय के पिता किंग जॉर्ज षष्ठम ब्रिटेन के नए राजा बने. एलिजाबेथ की पूरी पढ़ाई उनके घर में ही हुई. सुरक्षा कारणों को ध्यान में रखते हुए एलिजाबेथ को निजी रूप से घर पर ही शिक्षित किया गया था. क्वीन एलिजाबेथ द्वितीय की जीवनी के मुताबिक बचपन से ही उन्हें जानवरों से मोह था. खासकर घोड़े और कुत्तों से उन्हें ज्यादा प्यार था.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जताया दुख

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) ने क्वीन एलिजाबेथ द्वितीय के निधन (Queen Elizabeth II dies) पर दुख जताया है. पीएम मोदी ने क्वीन के साथ बिताए अपने पलों को याद किया. बता दें कि पीएम मोदी साल 2015 और 2018 में ब्रिटेन का दौरा किया था. तब उन्हें क्वीन एलिजाबेथ ने उन्हें वो रुमाल दिखाया था, जो महात्मा गांधी ने उनकी शादी पर उन्हें दिया था. पीएम मोदी ने लिखा कि, “मैं उनकी उदारता और गर्मजोशी को भूल नहीं सकता हूं. इस दुख की घड़ी में मेरी संवेदनाएं ब्रिटेन के लोगों के साथ हैं.”

एफिल टावर की लाइट्स बंद

महारानी एलिजाबेथ द्वितीय के निधन (Queen Elizabeth II dies) के बाद शोक जाहिर करते हुए फ्रांस ने एफिल टावर की लाइट्स बंद कर दी है. इतना ही नहीं प्रसिडेंट इमेनुअल मेक्रोन ने क्वीन एलिजाबेथ को ‘दयालु’ बताया. उन्होंने शोक प्रकट करते हुए कहा कि‘फ्रांस की दोस्त… जिन्होंने अपने देश को नई ऊंचाइयों पर पहुंचाया.’

अमेरिका ने जारी किया दो पन्नो का नोट

अमेरिका के राष्ट्रपति जो बाइडेन और उनकी पत्नी जिल बाइडेन ने क्वीन एलिजाबेथ द्वितीय के निधन पर (Queen Elizabeth II dies) बयान जारी किया है. जिसमें कहा गया कि, “दुनिया में हुए तमाम बदलावों के बीच क्वीन एलिजाबेथ की मौजूदगी ब्रिटेन के हर नागरिक के लिए गर्व की बात थी. इनमें कई ऐसे लोग भी शामिल थे, जो बिना उनके अपने देश को नहीं जानते थे. उनकी विरासत ब्रिटिश इतिहास के पन्नों में और हमारी दुनिया की कहानी में बहुत बड़ी होगी.”

ये भी पढ़ें- मुख्तार के गढ़ में गरजे सीएम Yogi Adityanath, कहा- मऊ को दीमक की तरह चाटने वालों से सरकार करा रही पाप की भरपाई

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *