Parliament Monsoon Session

Parliament Monsoon Session: कश्मीर घाटी में प्रवासियों और कश्मीरी पंडितों पर हमले, सूचना का अधिकार कार्यकर्ताओं की सुरक्षा, 2021 की जनगणना की स्थिति और विधिविरुद्ध क्रिया-कलाप (निवारण) अधिनियम के तहत दर्ज मामले जैसे मुद्दे इस बार होने वाले मानसून सत्र में उठ सकते हैं. इसके अलावा देश के कुछ हिस्सों में ‘विरोध प्रदर्शन करने के चलते मकानों को गिराए जाने’ और अग्निवीरों के लिए अर्धसैनिक बलों में नौकरी में आरक्षण, दंगे और पुलिस की गोलीबारी जैसे अनेक मुद्दे सांसदों द्वारा उठाए जा सकते हैं.

सोमवार से आरंभ हो रहा है मानसून सत्र

Parliament Monsoon Session

संसद का मानसून सत्र (Parliament Monsoon Session), सोमवार से आरंभ हो रहा हैं. जिसमें अनेक मुद्दे उठाए जाएंगे. केंद्रीय गृह मंत्रालय के संभावित प्रश्नों की सूची के मुताबिक इस बार सांसदों द्वारा विरोध प्रदर्शनों के कारण मकानों को गिराए जाने का मुद्दा तारांकित प्रश्न के माध्यम से राज्यसभा में सूचिबद्ध किया गया है.

कई लोगों के घर हुए थे ध्वस्त

Yogi Adityanath Govt

मध्य प्रदेश और उत्तर प्रदेश सहित कुछ राज्यों में कई ऐसी घटनाएं सामने आई है, जिनमें कथित तौर पर उग्र प्रदर्शनों में शामिल रहने वालों के घरों को प्राधिकारियों द्वारा ध्वस्त कर दिया गया है. प्राधिकारियों ने दावा किया था कि इन मकानों का निर्माण अवैध तरीके से हुआ था और जमीन संबंधी दस्तावेजों में भी अनियमितताएं थीं.’ अर्धसैनिक बलों में अग्निवीरों के लिए आरक्षण का मुद्दा, अतारांकित प्रश्न के माध्यम से सूचिबद्ध किया गया है.

ये मुद्दे भी उठाए जाएंगे संसद में

Parliament Monsoon Session

सोमवार से शुरू हो रहे सत्र (Parliament Monsoon Session) में इस दौरान, अर्धसैनिक बलों के परिवारों को मुआवजा दिए जाने, नक्सली हमले, दंगे, कर्फ्यू और पुलिस की गोलीबारी की वारदात, सीमापार से मादक द्रव्यों की तस्करी, आतंकवादी हमलों की घटनाएं जैसे मुद्दे भी उठाए जाने की संभावना है.

यह भी पढ़े- आइ2यू2 बैठक में शामिल होंगे पीएम मोदी, भारत समेत चार देशों के नेता करेंगे कई मुद्दों पर बात

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *