April 19, 2024

#World Cup 2023     #G20 Summit    #INDvsPAK    #Asia Cup 2023     #Politics

Opposition Meeting: विपक्षी एकता की एक और झलक पेस करने के लिए अब होगी दो दिवसीय बैठक

0
opposition meeting

Opposition Meeting: देश में लोकसभा चुनाव 2024 (Loksabha Election 2024) के लिए सियासी लड़ाई अभी से शुरू हो चुकी है। इसबार के लोकसभा चुनाव (Loksabha Election 2024) में दो गुट मुख्य धारा में लड़ते हुए देखने को मिल सकते हैं, जिनमें महागठबंधन (Maha Gathbandhan) और एनडीए (NDA) शामिल है।

इसमें महागठबंधन (Opposition Meeting) ने 17 और 18 जुलाई को बेंगलुरु में बैठक एक विपक्षी एकता की बैठक करने का फैसला लिया है। माना जा रहा है, विपक्षी दलों (Opposition Meeting) के लिए यह बैठक ऐतिहासिक हो सकता है। इसे लेकर कांग्रेस नेताओं की तरफ से जानकारी दी गई है कि कल 11 बजे बैठक औपचारिक रूप से शुरू होगी, इस बैठक में 26 पार्टियां हिस्सा ले सकती है।

इस बैठक में तय होगी आगे की रणनीति

opposition meeting

इस बैठक को लेकर जानकारी देते हुए कांग्रेस नेता केसी वेणुगोपाल (KC Venugopal) ने कहा कि हम दुनिया के सबसे बड़े लोकतंत्र की इन समस्याओं का समाधान करने के लिए यहां हैं। 26 विपक्षी दल एक साथ आगे बढ़ने और इस तानाशाही सरकार को जवाब देने के लिए यहां हैं। इस बैठक (Opposition Meeting) में हम आगे की रणनीति तय करेंगे, संसद की रणनीति भी बनाई जाएगी। उन्होंने (KC Venugopal) आगे कहा, हमें पूरा यकीन है कि ये भारतीय राजनीतिक परिदृश्य में गेम चेंजर साबित होने वाला है।

केसी वेणुगोपाल (KC Venugopal) की तरफ से कहा गया, हम सभी लोकतंत्र की रक्षा करने, संवैधानिक अधिकारों और अपनी संस्थाओं की स्वतंत्रता सुनिश्चित करने के एक साझा उद्देश्य से एकजुट हैं। बीजेपी सरकार के तहत इन पर हमले हो रहे हैं, वो सीबीआई, ईडी जैसी एजेंसियों का दुरुपयोग करके विपक्ष को चुप कराना चाहते हैं। राहुल गांधी (Rahul Gandhi) की अयोग्यता इसका एक उदाहरण है।

कर्नाटक के मुख्यमंत्री और उपमुख्यमंत्री करेंगे बैठक की अध्यक्षता

opposition meeting

कर्नाटक के उपमुख्यमंत्री डीके शिव कुमार (DK Shiv Kumar) ने विपक्ष की बैठक से पहले कहा कि देश की सभी विपक्षी पार्टी आज एक साथ एक नई शुरुआत के लिए एक मंच पर इकट्ठा हुई है। यह देश के कल को बनाने के क्रम में एक और क़दम है। मैं और कर्नाटक के मुख्यमंत्री (Siddaramaiah) इस बैठक (Opposition Meeting) की मेजबानी करेंगे। आप सबका यहां आने के लिए बेहद शुक्रिया।

कांग्रेस अध्यक्ष ने पीएम पर साधा निशाना

NDA गठबंधन को लेकर बुलाई गई भाजपा की बैठक पर कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खरगे (Mallikarjun Kharge) ने निशाना साधा है। उन्होंने कहा, “मुझे ताज्जुब है कि मोदी जी ने राज्यसभा में कहा था कि मैं सभी विपक्षियों पर अकेला भारी हूं। अगर वो सभी विपक्षियों पर अकेले भारी हैं तो वो 30 पार्टियों को क्यों एकत्रित कर रहे हैं। इसके साथ वो लोग उन 30 पार्टियों का नाम तो बताएं। हमारे साथ जो लोग हैं, वो हमेशा हमारे साथ रहे हैं। हमने संसद और संसद के बाहर भी मिलकर काम किया है। हम जो कर रहे हैं, उसे देखकर वो घबरा गए हैं।”

18 जुलाई की बैठक में सभी नेता होंगे शामिल

sharad-Pawar-Supriya-Sule

बैठक से ठीक पहले शरद पवार को लेकर कई तरह की खबरें सामने आईं, जिनमें कहा गया कि उनकी जगह उनकी बेटी बैठक में शामिल हो सकती हैं। इस पर कांग्रेस नेता जयराम रमेश ने कहा कि मीडिया चला रही है कि कुछ वरिष्ठ नेता बैठक में नहीं आ रहे हैं। मैं इस बात का पूरी तरह से खंडन करता हूं। आधिकारिक बैठक (Opposition Meeting) कल से शुरू हो रही है तो कल सभी नेता बैठक का हिस्सा होंगे।

आपको बता दें, कांग्रेस नेताओं की तरफ से ये भी बताया गया कि 18 जुलाई को सभी विपक्षी दल मिलकर संयुक्त बयान जारी कर सकते हैं। कहा गया है कि हम 26 दल हैं, हम मुद्दों पर सहमति बनाने की कोशिश कर रहे हैं। हम इन सभी मुद्दों को एक या दो बैठकों में सुलझा लेंगे।

इससे पहले पटना में हुई थी बैठक

आपको बता दें, इस दो दिवसीय एकता बैठक में 2024 के लोकसभा चुनाव (Loksabha Election) में भाजपा से मुकाबले की रणनीति पर चर्चा होने वाली है। आम आदमी पार्टी (AAP) की मांग पर कांग्रेस की सहमति के बाद इस बैठक में 26 पार्टियों के शामिल होने की उम्मीद जताई जा रही है। पिछले महीने 23 जून को पटना में बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार (CM Nitish Kumar) के बुलावे पर 17 पार्टियां ही विपक्षी बैठक (Opposition Meeting) में शामिल हुईं थीं।

 

यह भी पढ़ें : क्या अभिषेक बच्चन कर रहे है राजनीति में एंट्री,सपा से लड़ेंगे चुनाव,सपा मीडिया सेल ने ट्वीट कर दी सफाई

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *