April 19, 2024

#World Cup 2023     #G20 Summit    #INDvsPAK    #Asia Cup 2023     #Politics

कांग्रेस अध्यक्ष ने अडानी से लेकर जाति, धर्म और भाषा को लेकर केंद्र सरकार को घेरा, कहा- हर तरफ नफरत का माहौल

0
Mallikarjun Kharge attacked the central government in Parliament

नई दिल्ली: कांग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे (Mallikarjun Kharge) ने संसद में अडानी ग्रुप को लेकर केंद्र सरकार पर जमकर हमला बोला. इस दौरान राष्ट्रपति के अभिभाषण पर राज्यसभा में चल रही चर्चा पर आज भी जमकर हंगामा हुआ.

मल्लिकार्जुन खड़गे (Mallikarjun Kharge) ने चर्चा के दौरान सांप्रदायिक और जातिगत भेदभाव का भी मुद्दा उठाते हुए पीएम मोदी पर कई गंभीर आरोप लगाए. जिसपर बीजेपी सांसदों ने आरोपों के बदले कांग्रेस अध्यक्ष से सबूत पेश की मांग की. वहीं, सभापति जगदीप धनखड़ ने भी उन्हें आरोपों के बदले सबूत पेश करने को कहा.

‘किसानों को लाचार छोड़ दिया गया’

मल्लिकार्जुन खड़गे (Mallikarjun Kharge) ने केंद्र सरकार पर हमला बोलते हुए कहा कि- “उद्योगपतियों का कर्ज माफ कर दिया गया. वहीं, किसानों को लाचार छोड़ दिया. खरगे ने कहा कि- गौतम अडानी को जो प्रोत्साहन मिला है. बैंकों ने 82 हजार करोड़ लोन दिया. मोदीजी को मालूम होगा कि गुजरात में एक किसान को 31 पैसे बकाया के लिए नो ऑब्जेक्शन सर्टिफिकेट नहीं मिला.”

मल्लिकार्जुन खड़गे (Mallikarjun Kharge) ने कहा कि- “पैसा भी हमारा, पोर्ट, एयरपोर्ट भी हमारे. हमारे ही पैसे से ये सेक्टर खरीद रहे हैं. अगर पब्लिक सेक्टर जिंदा होते तो उसमें रिजर्वेशन होता, नौकरियां होतीं.” खरगे ने कहा कि- “आप सब प्राईवेट कर दे रहे हैं. जो रोजगार था, वो खत्म कर दे रहे हैं. आप तो गरीबों की बात करते हैं ना फिर आप पब्लिक सेक्टर क्यों खत्म कर रहे हैं. अडानी को 82 हजार करोड़ दे दिए और उसके पास 20 हजार लोग काम करते हैं.”

इस बीच मलिकार्जुन खड़गे (Mallikarjun Kharge) ने सदन में एक बार फिर से ज्वाइंट पार्लियामेंट्री कमिटी जांच की मांग की और कहा कि सरकारी संसाधनों के दुरुपयोग के आरोपों की जांच के लिए जेपीसी का गठन किया जाना चाहिए.

‘देश में आज हर तरफ नफरत का मौहाल’

देश में बढ़ रही सांप्रदायिक्ता पर मल्लिकार्जुन खड़गे (Mallikarjun Kharge)  ने कहा कि- “आज नफरत हर जगह फैल रही है. हमारे ही प्रतिनिधि उसको बढ़ावा दे रहे हैं. मैं प्रधानमंत्री जी से पूछता हूं कि आप चुप क्यों बैठे हैं. आप सबको डराते हो, नफरत फैलाने वालों को क्यों नहीं डराते हो. एक नजर पड़ी आपकी तो वो समझ जाएगा कि टिकट नहीं मिलेगा, चुप हो जाएगा. आप फिर भी मौनी बाबा बनकर बैठे हैं इसलिए ये हालात बने हैं.”

‘धर्म, जाती और भाषा के नाम पर नफरत’

Mallikarjun Kharge

मल्लिकार्जुन खड़गे (Mallikarjun Kharge)  ने सांप्रदायिक और जातिगत भेदभाव का भी मुद्दा उठाया. खड़गे ने कहा कि- “आज के समय में कहीं ईसाईयों के धार्मिक स्थल पर निगाहें हैं. तो कहीं दलित वर्ग मंदिर गया तो उसे मारा जाता हैं. उसकी कोई सुनवाई नहीं होती. दलितों को हिंदू मानते हैं ना तो उसे मंदिर में क्यों नहीं जाने देते?”

उन्होंने तंज कसते हुए कहा कि- “उसके (दलित) घर जाकर खाना खाकर मंत्री फोटो शेयर करते हैं. जब धर्म एक है तो उसे मंदिर में क्यों नहीं जाने देते हो? एक तरफ वो हमारे साथ भी नफरत करते हैं. धर्म-जाति-भाषा के नाम पर नफरत कर रहे हैं. नफरत छोड़ो और भारत को जोड़ो.” मल्लिकार्जुन खड़गे (Mallikarjun Kharge)  ने कहा कि- “राष्ट्रपति राधाकृष्णन ने कहा था कि हिंदू हो या मुसलमान, राजा हो या किसान…सबका सम्मान करना चाहिए.”

 

ये भी पढ़ें- संसद भवन के बाहर से दिल्ली पुलिस की हिरासत में महबूबा मुफ्ती, सरकार के इस काम का कर रही थीं विरोध

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *