March 1, 2024

#World Cup 2023     #G20 Summit    #INDvsPAK    #Asia Cup 2023     #Politics

अयोध्या में जल्द होगी KFC की एंट्री, सरकार जमीन देने को तैयार, माननी होगी शर्त

0
KFC

KFC

Ram Mandir: अयोध्या रामलला का घर, जब रामलला की प्राण प्रतिष्ठा नहीं हुई थी तब भी यहां श्रद्धालुओं का जमांवड़ा लगा रहता था। लेकिन जब से रामलला की प्राण प्रतिष्ठा हुई है तब से देश के कोने-कोने से लाखों लोग रोजाना रामलला के दर्शन करने पहुंच रहे हैं। जाहिर सी बात है श्रद्धालुओं की भीड़ बढ़ रही है तो खान-पान की सुविधाओं का भी ध्यान रखना पड़ेगा। ऐसे में रामनगरी में खाने-पीने के लिए कई देशी और विदेशी आउटलेट्स स्थापित किए जा रहे हैं। इसके तहत शर्त भी रखी जा रही है कि यहां नॉनवेज न परोसें। डोमिनोज, पिज्जाहट के बाद अब अयोध्या में KFC का भी आउटलेट खुलेगा।

मांस-मदिरा बेचना मना है

खबरों के मुताबिक राम नगरी में मांस-मदिरा सब बंद है। यह रामलला का गढ़ है इसलिए यहां शराब और मांस बेचना सख्त मना है। यहां ना तो कोई मांस-मदिरा बेच सकता है और ना ही कोई खा या पी सकता है। डोमिनोज के बाद यहां केएफसी आउटलेट खुलने के संकेत मिले हैं। अयोध्या के एक अधिकारी ने कहा कि ‘’केएफसी को शर्त के आधार पर रेस्टोरेंट खुलने की अनुमति मिल सकती है।‘’

Also Read: देश की सुरक्षा के लिए केंद्र सरकार का बड़ा फैसला, इस पड़ोसी देश की सीमा पर लगेगी 1643 KM लंबी फेंसिंग

सरकार जमीन देने के लिए तैयार है

अयोध्या के एक सरकारी अधिकारी ने बताया कि ‘’हम केएफसी को आउटलेट खोलने के लिए जमीन देने के लिए तैयार हैं, लेकिन केएफसी के रेस्टोरेंट में सिर्फ शाकाहारी चीजें ही बिकेंगी। केएफसी का स्वागत करते हुए कहा कि ‘’सिर्फ एक ही प्रतिबंध है कि केएफसी के रेस्टोरेंट में मांसाहारी खाना नहीं परोसा जाना चाहिए।‘’

बिसलेरी, हल्दीराम और पारले का होगा स्वागत

खबरों की माने तो ‘’अयोध्या में ग्लोबल फूड ब्रांड्स के अलावा लोकल फूड को भी प्रमोट किया जा रहा है। कुछ फास्ट फूड रेस्टोरेंट चोखा-बाटी जैसे क्षेत्रीय खाने को बेचकर भी अच्छा मुनाफा कमा रहे हैं। मंदिर परिसर क्षेत्र में बिसलेरी, हल्दीराम और पारले जैसी कंपनियां भी जल्द खुलेंगी।

 

Also Read: देश की सुरक्षा के लिए केंद्र सरकार का बड़ा फैसला, इस पड़ोसी देश की सीमा पर लगेगी 1643 KM लंबी फेंसिंग

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *