March 3, 2024

#World Cup 2023     #G20 Summit    #INDvsPAK    #Asia Cup 2023     #Politics

INDI Alliance: एक-एक कर सब छोड़ रहे हैं कांग्रेस का साथ, बीजेपी ने इंडी गठबंधन पर साधा निशाना

0
dilip-ghosh-and-mamta-baner

dilip-ghosh-and-mamta-baner

INDI Alliance: विपक्ष के इंडिया गठबंधन में पड़ी दरार सामने आने लगी है। कभी बंगाल की सीएम ममता बनर्जी तो कभी सपा प्रमुख अखिलेश यादव कांग्रेस पर हमला बोल रहे हैं। नीतीश भी इंडिया गठबंधन से नाराज चल रही है। कांग्रेस से सबको ऐतराज है और यह बात कांग्रेस को समझ नहीं आ रही है। कांग्रेस यात्रा करने में व्यस्त है। विपक्ष में सारी लड़ाई सीट बंटवारे को लेकर हो रही है। अभी तक तो विपक्ष एकदूसरे पर तंज कस रहा था अब भाजपा ने भी तंज कसना शुरू कर दिया है।

कोई विपक्षी गठबंधन नहीं बचा

Also Read: Maratha Reservation: महाराष्ट्र के लिए बड़ी खबर, सरकार ने मानी सभी मांगें, मनोज जरांगे ने खत्म किया अनशन

दरअसल भाजपा नेता दिलीप घोष ने विपक्ष गठबंधन पर तंजा कसते हुए कहा कि ”अब कोई विपक्षी गठबंधन नहीं बचा है। सभी विपक्षी नेता एक-एक करके इंडी गठबंधन छोड़ रहे हैं।” भाजपा नेता ने यह भी कहा कि ”पश्चिम बंगाल में ममता बनर्जी ने कहा कि वह 2024 लोकसभा में अकेले चुनाव लड़ेंगी। कई और नेता भी ये बयान दे चुके हैं। इसलिए यह नेता सिर्फ लोगों को बेवकूफ बनने का काम कर रहे हैं।”

कांग्रेस को झटके पर झटके

वहीं भाजपा प्रवक्ता शहजाद पूनावाला ने बिहार के सीएम नीतीश कुमार द्वारा महागठबंधन से नाता तोड़ने और फिर से भाजपा में शामिल होने की खबरों के बाद कांग्रेस पार्टी पर हमला बोलते हुए कहा कि ”इंडी गठबंधन को लगभग हर दिन झटके मिल रहे हैं।”

अनुराग ठाकुर ने कसा तंज

वहीं, केंद्रीय मंत्री अनुराग ठाकुर ने कांग्रेस पर तंज कसते हुए कहा कि ”वो अपने इंडी गठबंधन में तो ‘न्याय’ कर नहीं पा रहे, तभी वो हर राज्य में जा रहे हैं।” ठाकुर का ये बयान बिहार की राजनीति में उथल-पुथल और पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के 2024 के लोकसभा चुनाव अकेले लड़ने के फैसले पर आया है।

anurag_thakur

ममता अकेले अपने दम पर चुनाव लड़ेंगी

बता दें कि बुधवार को विपक्ष गठबंधन ‘इंडिया’ को उस समय बड़ा झटका लगा था जब पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने ऐलान किया था कि ”उनकी पार्टी तृणमूल कांग्रेस (टीएमसी) में आगामी लोकसभा चुनाव अकेले लड़ेगी। ममता ने सीधे तौर पर कांग्रेस को जिम्मेदार बताया है और कांग्रेस पर सीट शेयरिंग का फॉर्मूला नहीं निकालने का हवाला दिया है।” हालांकि, ममता के कड़े रुख के बाद कांग्रेस नरम पड़ी गई है। ममता के इस बयान के बाद कांग्रेस को निराशा हाथ लगी तो वहीं भाजपा को विपक्ष पर तंज कसने का एक और मौका मिल गया। इस संबंध में पार्टी के महासचिव जयराम रमेश ने बयान दिया था कि ”हम ममता बनर्जी के बिना इंडिया ब्लॉक की कल्पना नहीं कर सकते हैं।”

कभी स्पीड ब्रेकर, तो कभी हरी बत्ती

कांग्रेस नेता जयराम ने ममता के बयान पर कहा था कि ”रास्ते में कभी-कभी स्पीड ब्रेकर आ जाते हैं , कभी-कभी हरी बत्ती आ जाती है। हम ममता जी के बिना INDIA गटबंधन की कल्पना नहीं कर सकते हैं। हमें पूरी उम्मीद है जो बातचीत चल रही है। INDIA ब्लॉक एकजुट होकर बंगाल में चुनाव लडे़गा। हमारा मुख्य उद्देश्य देश और बंगाल में बीजेपी को हराना है। हम इसी सोच के साथ बंगाल में प्रवेश करेंगे।” उन्होंने आगे कहा, ”ममता बनर्जी का पूरा बयान है कि हम बीजेपी को हराना चाहते हैं। ये एक लंबा सफर है। तृणमूल कांग्रेस INDIA गठबंधन का एक बहुत ही महत्वपूर्ण स्तंभ है। कुछ न कुछ रास्ता निकाला ही जाएगा।”

jairam_ramesh

शिष्टाचार के नाते नहीं दिया, न्याय यात्रा का निमंत्रण

वहीं, कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने मंगलवार को बयान दिया था कि ”ममता बनर्जी उनके करीब हैं और सीट बंटवारे की बातचीत चल रही है। किसी नेता की टिप्पणियों से कोई फर्क नहीं पड़ेगा।” हालांकि, टीएमसी सुप्रीमो की नाराजगी शांत नहीं हुई। उन्होंने यह भी दावा किया कि कांग्रेस ने उन्हें पश्चिम बंगाल में अपनी भारत जोड़ो न्याय यात्रा के बारे में सूचित नहीं किया। ममता ने कहा, ”शिष्टाचार के नाते उन्होंने मुझे यह भी सूचित नहीं किया कि वे बंगाल में यात्रा आयोजित करने जा रहे हैं।”

Rahul Mamta

 

Also Read: 7th Pay Commission: सरकारी कर्मचारियों और पेंशनर्स को मिल सकता है बकाया महंगाई भत्ता, DA को लेकर भेजा गया प्रस्‍ताव

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *