March 2, 2024

#World Cup 2023     #G20 Summit    #INDvsPAK    #Asia Cup 2023     #Politics

दो राज्यों की पुलिस के बीच खूनी झड़प से लेकर सहयोग के मामले नहीं है नए, आमतौर पर देखे जाते हैं ऐसे मामले

0
Clash B/W Police

Clash B/W Police

Clash B/W Police: दो राज्यों के बीच सीमा विवाद, राजनीतिक दबाव, भड़काऊ भाषण देने, एक-दूसरे के अधिकार क्षेत्र में अतिक्रमण, धार्मिक उन्माद फैलाने और डराने-धमकाने आदि के आरोप के कारण कई बार पुलिस के बीच सामंजस्य का अभाव होता है। कई बार तो बात इतनी बिगड़ जाती है कि खूनी जंग व गोलियां तक चल जाती है। गौरतलब है कि इस बार एक चैनल के एंकर को गिरफ्तार करने के लिए, उत्तर प्रदेश (UP) की पुलिस और छत्तीसगढ़ (Chhattisgarh) की पुलिस (Police) आमने सामने आ गई है।

पंजाब पुलिस ने गिरफ्तार किया, हरियाणा ने छुड़ाकर दिल्ली पुलिस को सौंपा

Clash B/W Police
Clash B/W Police

भड़काऊ भाषण देने, धार्मिक उन्माद फैलाने और डराने-धमकाने के आरोप में बीजेपी नेता तजिंदर बग्गा को वर्ष 2022, 6 मई को दिल्ली स्थित उनके निवास से पंजाब पुलिस ने गिरफ्तार किया था। जो कि उन्हें पंजाब के मोहाली ले जा रहे थे लेकिन कुरुक्षेत्र में हरियाणा पुलिस ने उन्हें रोका और दिल्ली पुलिस को सौंप दिया। जिसके बाद दिल्ली पुलिस, बीजेपी नेता को लेकर दिल्ली पहुंच गई थी। बहरहाल पंजाब पुलिस पर दिल्ली पुलिस का आरोप था कि उन्होंने तेजिंदर पाल सिंह बग्गा के बारे में जानकारी नहीं दी थी। जबकि उससे पहले, दिल्ली पुलिस ने बग्गा के पिता की शिकायत के आधार पर अपहरण का केस दर्ज किया था। जिस पर पंजाब पुलिस का कहना था कि तेजिंदर पांच बार नोटिस भेजने पर भी जांच में शामिल नहीं हुए।

पंजाब पुलिस पर राजस्थान में किया गया था केस दर्ज

 

बहरहाल इस घटना के चार दिन बाद ही 10 मई को पंजाब पुलिस पर राजस्थान में भी, दिल्ली जैसा (Clash B/W Police) केस दर्ज किया गया था। जिसमें डीएपी और एसएचओ समेत 14 पर किडनैपिंग का आरोप लगाया गया था व पंजाब पुलिस पर आरोप था कि वह नशीले पदार्थ के केस में एक युवक को कोटा से पंजाब ले गई। और युवक की गिरफ्तारी होशियारपुर में दिखाई गई। हालांकि युवक के परिवार ने कोटा में पंजाब पुलिस के खिलाफ मामला दर्ज कराया था तथा परिवार का आरोप था कि उसे झूठे केस में फंसाया जा रहा है।

असम और मिजोरम की पुलिस के बीच हुई थी खूनी जंग

Clash B/W Police
Clash B/W Police

इससे पहले, पिछले वर्ष 26 जुलाई को असम और मिजोरम की पुलिस (Clash B/W Police) के बीच खूनी झड़प हुई थी जिसमें असम के छह पुलिस कर्मियों सहित सात लोगों की मौत हो गई थी एवं 50 से ज्यादा लोग घायल हुए थे। असम और मिजोरम के बीच सीमा विवाद को लेकर यह झड़प हुई थी। जिसमें दोनों ओर की पुलिस हिंसक हो गई थी। बहरहाल केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह के हस्तक्षेप के बाद यह पूरा विवाद समाप्त हुआ था।

एंकर को गिरफ्तार करने के लिए दो राज्यों की पुलिस आई आमने-सामने

Clash B/W Police
Clash B/W Police

राज्यों की पुलिस के बीच (Clash B/W Police) इस तरह के विवाद नए नहीं हैं। कांग्रेस नेता राहुल गांधी (Rahul Gandhi) का एक भ्रामक वीडियो एक चैनल पर दिखाया गया था जिसको लेकर छत्तीसगढ़ पुलिस ने मामला दर्ज किया और चैनल के एंकर को गिरफ्तार करने के लिए वारंट लेकर गाजियाबाद पहुंच गई। इससे पहले कि एंकर को रायपुर से आई पुलिस गिरफ्तार करती, एंकर के घर यूपी पुलिस पहुंच गई और एंकर को हिरासत में ले लिया। इस दौरान दोनों राज्यों की पुलिस के बीच धक्का-मुक्की भी हुई। हालांकि उन्हें रात में ज़मानत पर रिहा भी कर दिया गया था।

ये भी पढ़े- दो राज्यों की पुलिस आई आमने-सामने, टीवी चैनल के एंकर को गिरफ्तार करने को लेकर हुआ पूरा विवाद

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *