April 17, 2024

#World Cup 2023     #G20 Summit    #INDvsPAK    #Asia Cup 2023     #Politics

Amritpal Singh : अजनाला हिंसा मामले में अमृतपाल सिंह के 6 साथी गिरफ्तार, पंजाब में 19 मार्च तक के लिए इंटरनेट बंद

0
Amritpal Singh

Amritpal Singh Arrested: अजनाला हिंसा को लेकर पंजाब पुलिस ने अमृतपाल सिंह (Amritpal Singh) के खिलाफ बड़ी कार्रवाई की है. थाने की घटना के बाद से ही पंजाब पुलिस ने उसके खिलाफ शिंकजा कसना शुरू कर दिया था. इस बीच आज पुलिस ने दबिश बढ़ाते हुए उसकी गिरफ्तारी के लिए जगह-जगह छापेमारी की. जिसमें अमृतपाल के 6 साथियों को गिरफ्तार कर लिया गया है.

रातों रात बना गिरफ्तारी का प्लान

दरअसल अमृतपाल सिंह (Amritpal Singh) ने आज शनिवार को जालंधर-मोगा नेशनल हाईवे के पास एक कार्यक्रम रखा था. जहां उसके पहुंचने से पहले उसके समर्थक जुटने लगे थे. इस बीच जालंधर और मोगा पुलिस ने जॉइंट ऑपरेशन में गुपचुप तरीके से अमृतपाल को गिरफ्तार करने की रणनीति बनाई. इसके लिए आस-पास के जिलों से पुलिस फोर्स बुलाकर अमृतपाल के काफिले पर घेरा डाला गया.

पुलिस ने काफिले में सबसे आगे चल रही 2 गाड़ियों में सवार 6 लोगों को पकड़ लिया. अमृतपाल सिंह (Amritpal Singh) की मर्सिडीज कार काफिले में तीसरे नंबर पर थी. जो पुलिस से खुद को घिरते देख दूसरी तरफ भागने लगा. इस बीच पुलिस ने भी कई किलोमीटर तक उसका पीछा किया और उसे दबोच लिया. बता दें कि गिरफ्तार उसके 6 साथियों के पास से पुलिस को भारी मात्रा में हथियार भी बरामद हुए हैं.

कल तक के लिए इंटरनेट बंद

वहीं, अमृतपाल सिंह (Amritpal Singh) कि गिरफ्तारी और कार्रवाई को लेकर पंजाब में माहौल ना बिगड़े, इसे देखते हुए पंजाब में कल तक के लिए इंटरनेट को बंद कर दिया है. लोगों के मोबाइल पर बात तो हो रही है. हालांकि आपको बता दें कि पंजाब पुलिस आधिकारिक तौर पर थोड़ी देर बाद उसकी गिरफ्तारी का ऐलान कर सकती है.

क्या है अजनाला थाना हिंसा ?

दरअसल 23 फरवरी गुरुवार को ‘वारिस पंजाब दे’ संगठन से जुड़े हजारों खालिस्तान समर्थकों ने अमृतसर के अजनाला थाने पर हमला कर दिया था. इस दौरान इनके हाथों में बंदूकें और तलवारें भी थीं. ये सभी ‘वारिस पंजाब दे’ के प्रमुख अमृतपाल सिंह (Amritpal Singh) के करीबी लवप्रीत सिंह तूफान की गिरफ्तारी का विरोध कर रहे थे. इनके विरोध का अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि यह लोग पुलिस की बैरीकेड को तोड़ते हुए अंदर घुस जाते हैं. जिसमें कई पुलिसकर्मी गंभीर रूप से घायल हो जाते हैं.

Amritpal Singh again threatened the Punjab government

वहीं, ‘वारिस पंजाब दे’ के प्रमुख अमृतपाल सिंह (Amritpal Singh) ने पंजाब पुलिस को तूफान सिंह को 24 घंटे के अंदर जल्द से जल्द रिहा कर देने की धमकी दी थी. ऐसा नहीं, करने पर उसने पंजाब सरकार और पुलिस को इसका परिणाम भुगतने की चुनौती तक दे डाली थी. अमृतपाल सिंह (Amritpal Singh) के खालिस्तानी समर्थकों द्वारा किए जा रहे हंगामे को देखते हुए पंजाब पुलिस ने तूफान सिंह को रिहा करने का फैसला करना पड़ा था.

 

ये भी पढ़ें- प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने दो दिवसीय ‘श्री अन्न’ के वैश्विक सम्मेलन का किया उद्घाटन, डाक टिकट जारी कर बताई मोटे अनाज की महत्वता

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *