March 2, 2024

#World Cup 2023     #G20 Summit    #INDvsPAK    #Asia Cup 2023     #Politics

दुनियाभर में दहशत का दूसरा नाम बने अल जवाहिरी की हुई मौत, अमेरिका ने ड्रोन स्ट्राइक से किया हमला

0
Al Zawahiri Dead

अमेरिका ने पहले भी कई बार की जवाहिरी को मारने की कोशिश

Al Zawahiri Dead: आतंकियों के खिलाफ दुनियाभर में लगातार अभियान चलाए जा रहें हैं. बता दें कि आज अमेरिका ने मोस्ट वॉन्टेड ग्लोबल टेरररिस्ट व आतंकी संगठन अलकायदा के प्रमुख अल जवाहिरी (Al Zawahiri Dead) को मार गिराया है. जिसकी पुष्टि खुद अमेरिका के राष्ट्रपति जो बाइडेन (Joe Biden) ने की है.

ड्रोन से किया हमला

Al Zawahiri Dead

राष्ट्रपति जो बाइडेन ने कहा कि मेरे निर्देश पर शनिवार को, अमेरिका की केंद्रीय खुफिया एजेंसी (CIA) ने अफगानिस्तान के काबुल में सफलतापूर्वक ड्रोन स्ट्राइक की गई, जिसमें अलकायदा का सरगना अयमान अल-जवाहिरी (Ayman Al Zawahiri) मारा गया है. इसी के साथ उन्होंने (Joe Biden) ये भी कहा कि अब न्याय मिल चुका है.

दोहा समझौते का किया उल्लंघन- तालिबान

Al Zawahiri Dead

बता दें कि जवाहिरी (Al Zawahiri Dead) ने वर्ष 2011 में अलकायदा के संस्थापक ओसामा बिन लादेन (Osama Bin Laden) की मौत के बाद से, आतंकी संगठन का जिम्मा संभाला था. बहरहाल अगस्त 2021 में अफगानिस्तान में तालिबान की सरकार आने के बाद से ही वह (Ayman Al Zawahiri), काबुल में छिपे हुए थे. गौरतलब है कि अमेरिका द्वारा की गई इस कार्रवाई से तालिबान भड़का हुआ है और कह रहा है कि ये दोहा समझौते का उल्लंघन है.

इस्लामिक हुकूमत कायम करना चाहते थे जवाहिरी

Al Zawahiri Dead

दुनियाभर में दहशत का दूसरा नाम बने अल जवाहिरी (Al Zawahiri Dead), मिस्र में इस्लामिक हुकूमत कायम करना चाहते थे, और इसी वजह से उन्होंने इजिप्टियन इस्लामिक जिहाद यानी EIJ का गठन किया था. बता दें कि वर्ष 1970 में, इस संगठन ने मिस्र में सेक्युलर शासन के खिलाफ विरोध जताया था. हालांकि साल 1981 में मिस्र के राष्ट्रपति अनवर सादात की हत्या के बाद, जवाहिरी 3 साल के लिए जेल में रहें थे और फिर उसके बाद वह सऊदी अरब चले गए थे.

9/11 हमले का आरोपी था जवाहिरी

Al Zawahiri Dead

पेशे से सर्जन, अल जवाहिरी (Al Zawahiri Dead) पर अमेरिका में 9/11 हमले का आरोप था. बता दें कि 11 सितंबर वर्ष 2001, में 19 आतंकियों ने 4 कॉमर्शियल प्लेन को हाइजैक किया था, जिसको उन लोगों ने अमेरिका के वर्ल्ड ट्रेड सेंटर पर टकरा दिया था. इस हमले में करीब 3 हजार लोगों की मौत हुई थी, जिसमें 90 से ज्यादा देशों के लोग शामिल थे. गौरतलब है कि इस हमले में अमेरिकी जांच एजेंसियों ने लादेन और जवाहिरी समेत अलकायदा के आतंकियों को आरोपी बताया था.

साल 2001 के हमले में अल के बीवी और बच्चों की हुई थी मौत

Al Zawahiri Dead

अमेरिका ने पहले भी कई बार जवाहिरी (Al Zawahiri Dead) को मारने की कोशिश की है, लेकिन वह हर बार बच निकलता था. बता दें कि साल 2001 में अमेरिका को सूचना मिली थी कि जवाहिरी, अफगानिस्तान के तोरा बोरा में छिपा है, जिसके बाद अमेरिका ने उसे मारने की कोशिश की थी हालांकि उस हमले से भी वह बच निकला था लेकिन इस हमले में उसके बीवी और बच्चों की मौत हो गई थी.

इसके बाद साल 2006 में भी अमेरिका ने पाकिस्तान के दामदोला में मिसाइल से हमला किया था. अमेरिका को सूचना मिली थी कि जवाहिरी पाकिस्तान में छिपा है लेकिन हमले से पहले ही जवाहिरी (Al Zawahiri Dead) भाग निकला था.

यह भी पढ़े- संजय राउत से ईडी ने मांगी थी 8 दिन की रिमांड, अब भेजा 4 दिन की कस्टडी में

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *