April 20, 2024

#World Cup 2023     #G20 Summit    #INDvsPAK    #Asia Cup 2023     #Politics

गंगटोक और लक्ष्यद्वीप के बाद अब द्वारका नगरी पहुचें PM Modi, भारतीय पर्यटकों को बढ़ी संख्या

0
PM

PM

PM Modi: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रविवार को गुजरात के द्वारकाधीश मंदिर के दर्शन किए और यहां पूजा अर्चना की। अपने गुजरात दौरे के दौरान प्रधानमंत्री ने हजारों करोड़ की विकास परियोजनाओं की आधारशिला रखी और कई परियोजाओं का उद्घाटन कर राष्ट्र को समर्पित किया। द्वारका में प्रधानमंत्री गहरे समुद्र में पानी के नीचे गए और उस स्थल पर प्रार्थना की जहां जलमग्न द्वारका नगरी है। पीएम ने इसकी तस्वीर और इसका वीडियो भी शेयर किया और देखते ही देखते उनका ये वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो गया है और लोग इंटरनेट पर द्वारका नगरी के बारे में सर्च करने लगे।

लेकिन ये पहली बार नहीं है कि जब पीएम मोदी किसी जगह पर गए हों और उसकी चर्चा ना हुई हो. इससे पहले भी पीएम देश में जब कुछ जगहों पर गए और फिर तस्वीर शेयर की तो ना केवल लोगों ने उसके बारे में इंटरनेट पर सर्च किया बल्कि वहां जाने भी लगे। तो आइए ऐसी ही पांच जगहों के बारे में जानते हैं, जहां पीएम मोदी ने कदम रखा और वो जगह famous हो गई और वहां अचानक से लोगों की आवाजाही में भारी इजाफा हुआ।

हाल ही में प्रधानमंत्री रविवार को गुजरात के द्वारका में समुद्र के गहरे पानी के अंदर गए और उस स्थान पर प्रार्थना की जहां जलमग्न द्वारका नगरी है। उन्होंने कहा कि ”मैंने समुद्र के भीतर जाकर प्राचीन द्वारका नगरी के दर्शन किया। मैंने जो अनुभव किया, वो हमेशा मेरे साथ रहेगा।” पीएम ने कहा कि ”इस अनुभव ने मेरे सामने भारत के आध्यात्मिक और ऐतिहासिक जड़ों के साथ एक दुर्लभ और गहरा संबंध प्रस्तुत किया।”

इतना ही नहीं, पीएम मोदी ने पानी के अंदर द्वारका नगरी को श्रद्धांजलि अर्पित की। वो अपने साथ भगवान श्रीकृष्ण को अर्पित करने के लिए समुद्र के अंदर मोर पंख लेकर गए थे। पीएम मोदी ने एक्स पर एक पोस्ट में लिखा, ”पानी में डूबी द्वारिका नगरी में प्रार्थना करना बहुत ही दिव्य अनुभव था। मुझे आध्यात्मिक वैभव और शाश्वत भक्ति के एक प्राचीन युग से जुड़ाव महसूस हुआ. भगवान श्री कृष्ण हम सभी को आशीर्वाद दें।”

Also Read: Indians: भारतीय लोग खान-पान के आलावा इन चीजों पर कर रहे खर्चा, जानें कितना है मासिक प्रति व्यक्ति उपभोक्ता खर्च?

 

बता दें कि पीएम मोदी का वीडिय सामने आते ही तेज़ी से वायरल हो गया। प्रधानमंत्री के फेसबुक पेज पर ही इस वीडियो को अभी तक करीब 38 लाख लोग देख चुके हैं, जबकि 44 हजार से अधिक लोगों ने इसे शेयर किया है। वहीं इंस्टाग्राम पर तो इसे 3 करोड़ 80 लाख से ज्यादा लोग देख चुके हैं। लोग इंटरनेट पर लगातार द्वारका नगरी के बारे में सर्च कर रहे हैं। ऐसे में ये तो तय है कि आने वाले दिनों में यहां जाने वाले पर्यटकों की संख्या में भारी इजाफा होने वाला है।

अगर आपको याद हो तो लोकसभा चुनाव 2019 के नतीजों से पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने केदारनाथ की एक गुफा में ध्यान लगाया था। इसके बाद इस गुफा ने दुनियाभर में सुर्खियां बटोरी थीं। पीएम के ध्यान लगाने वाली तस्वीरें इस कदर वायरल हुई कि जल्द ही ये गुफा स्पेशल टूरिस्ट डेस्टिनेशन बन गई। गौरतलब है कि पीएम मोदी यहां 18 मई 2019 को गए और उसके बाद इस गुफा की पब्लिसिटी इतनी हुई थी कि उस साल मई में ही अक्टूबर 2019 तक की सारी बुकिंग हो चुकी थी। इसके बाद साल-दर साल यहां आने वाले पर्यटकों की संख्या बढ़ती चली गई।

18 मई को केदारनाथ मंदिर में दर्शन करने के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी एक गुफा में ध्यान लगाने गए थे। प्रधानमंत्री ने पूरी रात इस गुफा में गुजारी थी। वहीं गढ़वाल मंडल विकास निगम (GMVN) के अनुसार, यहां अब रात में रूकने के लिए 3700 रुपये शुल्क है। लेकिन जब पीएम मोदी यहां गए थे तब यहां रात्रि प्रवास का शुल्क 1500 रुपये और दिनभर के लिए 990 रुपये था।

समुद्री तल से 12 हजार फीट की ऊंचाई पर मौजूद इस गुफा में वाई-फाई, फोन और बेड का भी इंतजाम है। यही कारण रहा था कि प्रधानमंत्री के जाने के बाद ये काफी चर्चा में आ गई थी, गुफा में ध्यान लगाती प्रधानमंत्री की तस्वीर सोशल मीडिया पर काफी वायरल भी हुई थी।

वहीं सबसे ज्यादा चर्चित खबरों में रही प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की केंद्र शासित प्रदेश लक्षद्वीप की यात्रा जिसके बाद वहां के पर्यटन के बारे में काफी चर्चा हो रही है और नेता से लेकर अभिनेता तक वहां जाकर अपनी तस्वीरें सोशल मीडिया पर पोस्ट कर रहे हैं। साथ ही कई मशहूर हस्तियों ने भी अपने सोशल मीडिया हैंडल पर लक्षद्वीप को टूरिस्ट हॉटस्पॉट के रूप में बताया है। जिसके बाद यहां के द्वीपों के लिए बड़े पैमाने पर फ्लाइट बुकिंग हुई है।

बता दें कि पीएम ने लक्षद्वीप दौरे पर Snorkeling और morning walk भी की. उन्होंने कहा कि ”जो लोग अपने अंदर के रोमांच को अपनाना चाहते हैं, उनके लिए लक्षद्वीप लिस्ट में होना चाहिए।” पीएम ने कहा कि ”मैंने अपने प्रवास के दौरान स्नॉर्कलिंग भी की। ये बहुत आनंददायक अनुभव था।”

 

प्रधानमंत्री ने लक्षद्वीप में मॉर्निंग वॉक का जिक्र करते हुए कहा कि ‘‘यहां प्राचीन समुद्र तटों के साथ सुबह की सैर भी शानदार क्षण थे।”

फिर जैसे ही पीएम की लक्ष्यद्वीप वाली तस्वीरें सामने आई तो ये वायरल होने लगी. फिल्मी हस्तियों से लेकर सोशल मीडिया तक लोग मालदीव की जगह लक्ष्यद्वीप जाने की बात कहने लगे। नतीजा ये रहा कि इस द्वीपसमूह पर जाने के लिए मार्च 2024 तक की फ्लाइट टिकट बुक हो चुकी हैं। गौरतलब है कि बीते साल लक्षद्वीप जाने वाले पर्यटकों की संख्या करीब 25 हजार रही थी जो इस बार कई गुना बढ़ सकती है।

अब बात करें सिक्किम की राजधानी गंगटोक, जो भारत के सबसे खूबसूरत शहरों में से एक है. और जहां से प्रसिद्ध माउंट कंचनजंघा के लुभावने दृश्य दिखते हैं।  24 सितंबर 2018 को पीएम मोदी ने अपने इंस्टाग्राम पर एक तस्वीर पोस्ट की थी जो गंगटोक की थी. पीएम मोदी इस सुंदर शहर में सुबह की चाय का आनंद लेते हुए और अखबार पढ़ते हुए नजर आए।

इतना ही नहीं इस गंगटोक दौरे के दौरान पीएम मोदी खुद भी फोटो क्लिक करते हुए नजर आए।

पीएम मोदी ने सिक्किम की चार तस्वीरें अपने एक्स अकाउंट पर शेयर की और लिखा कि सिक्किम के रास्ते पर इन तस्वीरों को खींचा है. मोहक और अविश्वसनीय! फिर देखते ही देखते तस्वीर वायरल हो गई और लोग इंटरनेट पर गंगटोक के बारे में जानने की कोशिश करने लगे।

अख़िर में बात करेंगे अक्टूबर 2023 की, जब प्रधानमंत्री मोदी उत्तराखंड के official tour पर निकले थे, जहां उन्होंने पूजा करने के लिए पार्वती कुंड और जागेश्वर धाम का दौरा किया। पीएम मोदी ने पार्वती कुंड और जागेश्वर की मनमोहक तस्वीरें शेयर करते हुए आदि कैलाश के मनमोहक चित्रमाला पर रौशनी डाली।

आपको बता दें कि पार्वती कुंड में अपनी गहरी श्रद्धा दिखाते हुए पीएम मोदी ने न केवल पारंपरिक पोशाक पहनी, बल्कि इस पवित्र स्थल पर ध्यान के लिए भी समय समर्पित किया। देखते ही देखते ये तस्वीर भी वायरल हो गई। इसके बाद जब वो यहां से जागेश्वर गए तो वहां पूजा करते हुए भी उनकी तस्वीरें वायरल हुई. उसके बाद दोनों जगहों पर पर्यटकों के जाने वालों की संख्या में तेज़ इजाफा हुआ।

 

Also Read: Arvind Kejriwal: केजरीवाल का केंद्र और बीजेपी पर आरोप, कहा, बीजेपी पर लगाए दिल्लीवालों से नफरत करने के आरोप

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *